जागो जनमत: मतदान कर लोकतंत्र का धर्म निभाएंगे

जागो जनमत: मतदान कर लोकतंत्र का धर्म निभाएंगे

Ram Naresh Gautam | Publish: Apr, 17 2018 06:39:35 PM (IST) Bengaluru, Karnataka, India

राजपूत परिषद ने भी लिया मतदान का संकल्प

बेंगलूरु. राजस्थान पत्रिका का जागो जनमत अभियान अब धीरे धीरे परवान चढऩे लगा है। अभियान अब एक क्षेत्र में ही नहीं बल्कि पूरे बेंगलूरु में फैल चुका है। शूरवीरों की धरती राजस्थान से उठकर आजीविका के लिए कर्नाटक में रह रहे प्रवासी राजपूत पिछले चुनावों की तरह इस बार भी कर्नाटक विधान सभा चुनाव में वोट डाल कर अपना लोकतांत्रिक धर्म निभाएंगे।

राजस्थान पत्रिका के जागो जनमत अभियान के तहत इस अभियान में एक कड़ी जोड़ते हुए राजपूत परिषद कर्नाटक व महाराणा प्रताप नवयुवक मंडल के सदस्यों ने जागो जनमत अभियान को जन जन तक पहुंचाने का बीड़ा उठाने का संकल्प किया। वक्ताओं ने कहा प्रजातंत्र में वोट की कीमत है और हम सभी को उस कीमत को पहचानना होगा।

राजपूत समाज कर्नाटका के पूर्व अध्यक्ष भगवान सिंह भाटी ने राजस्थान पत्रिका के जागो जनमत अभियान से समाज के सभी लोगों को जुडऩे का आह्वान करते हुए कहा कि हमे घरों से बाहर निकल कर मतदान केन्द्रों तक जाना है और मतदान करना है। उन्होंने कहा कि राजपूत समाज देश की सेवा में हमेशा अग्रणी रहा है और अब भी पीछे नहीं है।

राजपूत परिषद के अध्यक्ष कल्याणसिंह जेतावत ने कहा कि हमें प्रतिज्ञा करनी होगी कि हम जहां भी रहेंगे वोट अवश्य डालने जाएंगे। लोगों को मतदान को प्रेरित करने के लिए सभी प्रवासी मिलकर प्रयास करेंगे। महाराणा प्रताप नवयुवक मंडल के अध्यक्ष नाथूसिंह खींची ने कहा कि इस बार युवक मंडल के सदस्य मतदान के लिए लोगों को जागरुक करेंगे। खास कर महिलाओं को मतदान करने के लिए प्रेरित करेंगे। इस अवसर पर मंडल के उपाध्यक्ष शैतानसिंह देवड़ा, समाज के चांदसिंह भाटी, सज्जनसिंह, श्रवणसिंह भाटी सहित समाज के अनेक लोग उपस्थित थे। इस मौके पर लोगों ने मतदान करने का संकल्प भी किया।

----------------

कल का अभियान
श्री जयमल जैन श्रावक संघ, बेंगलूरु की ओर से 18 अप्रेल को अक्षय तृतीया के अवसर पर श्रीरामपुरम मेट्रो स्टेशन के निकट समणी सेंटर में जागो जनमत अभियान के तहत जैन समाज के लोगों को मतदान के लिए जागरुक किया जाएगा। संघ के अध्यक्ष मीठालाल मकाणा ने बताया कि इस मौके पर समाज के लोग मतदान के लिए संकल्प लेंगे। जयधुरंधर मुनि भी अपना संदेश देंगे।

Ad Block is Banned