विधायक को ब्लैकमेल करने वाला पत्रकार गिरफ्तार

विधायक को ब्लैकमेल करने वाला पत्रकार गिरफ्तार

Santosh Kumar Pandey | Updated: 06 May 2019, 10:41:29 PM (IST) Bangalore, Bangalore, Karnataka, India

भाजपा विधायक अरविंद लिंबावली को फर्जी ऑडियो एवं वीडियो क्लिप के माध्यम से ब्लैकमेल करने की कोशिश करने वाले एक पत्रकार को सेंट्रल क्राइम ब्रांच पुलिस ने गिरफ्तार किया है। एक कन्नड़ समाचार चैनल के लिए काम करने वाले आरोपी हेमंत कम्मार पर आरोप है कि वह लिंबावली को ब्लैकमेल करने की कोशिश कर रहा था, और उनसे 50 लाख रुपए की मांग कर रहा था।

बेंगलूरु. भाजपा विधायक अरविंद लिंबावली को फर्जी ऑडियो एवं वीडियो क्लिप के माध्यम से ब्लैकमेल करने की कोशिश करने वाले एक पत्रकार को सेंट्रल क्राइम ब्रांच पुलिस ने गिरफ्तार किया है। एक कन्नड़ समाचार चैनल के लिए काम करने वाले आरोपी हेमंत कम्मार पर आरोप है कि वह लिंबावली को ब्लैकमेल करने की कोशिश कर रहा था, और उनसे 50 लाख रुपए की मांग कर रहा था।

लिंबावली के पीए गिरीश भारद्वाज ने वाइटफील्ड थाने में पिछले सप्ताह हेमंत के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी। रविवार को सीसीबी टीम ने संजयनगर स्थित हेमंत के कार्यालय पर छापेमारी की और उसे गिरफ्तार किया। अपनी शिकायत में, गिरीश ने कहा कि हेमंत ने रघु मौर्य के नाम से फेसबुक अकाउंट बनाया था और मई 2018 में भाजपा विधायक की नकली ऑडियो क्लिप पोस्ट की थी। 12 मई, 2018 को आइटी अधिनियम की धाराओं के तहत महादेवपुरा पुलिस स्टेशन में एक मामला दर्ज किया गया था। हाल ही में, हेमंत ने गिरीश से कहा कि प्रतिद्वंद्वी नेता ऑडियो क्लिप की प्रतियां मांग रहे हैं। हेमंत ने लिंबावली को कहा था कि अगर वे ५० लाख रुपए देंगे तो हेमंत ऑडियो क्लिप जारी नहीं करेगा।

आरोपी ने सीएम कार्यालय के नाम से भी एक फर्जी व्हाट्सएप अकाउंट भी बनाया था। इस बीच, जांच से पता चला कि हेमंत जिस चैनल के साथ वह काम कर रहा था वह अब कार्यात्मक नहीं है। आरोपी को अदालत में पेश किया गया और आगे की जांच के लिए हिरासत में ले लिया गया।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned