केइए ने घोषित किए मेडिकल व डेंटल काउंसलिंग के परिणाम

केइए ने घोषित किए मेडिकल व डेंटल काउंसलिंग के परिणाम

Ram Naresh Gautam | Publish: Aug, 12 2018 08:05:52 PM (IST) Bengaluru, Karnataka, India

इसके बाद केइए ने इंजीनियरिंग, आर्किटेक्चर व कृषि विज्ञान आदि पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए आयोजित काउंसलिंग के नतीजे भी घोषित किए

बेंगलूरु. कर्नाटक परीक्षा प्राधिकरण (केइए) ने मेडिकल व डेंटल कॉलेजों में प्रवेश के लिए आयोजित काउंसलिंग (दूसरा चरण) के नतीजे शनिवार को अपने वेबसाइट पर घोषित किए। केइए के बयान के अनुसार मेरिट और उम्मीदवारों द्वारा भरे गए विकल्प के आधार पर सीटों का आवंटन हुआ।

इसके बाद केइए ने इंजीनियरिंग, आर्किटेक्चर व कृषि विज्ञान आदि पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए आयोजित काउंसलिंग के नतीजे भी घोषित किए। केइए के अनुसार उम्मीदवारों को प्रवेशआदेश में उल्लेखित शुल्क का भुगतान करना होगा। कॉलेज में रिपोर्ट करने की तिथि के दिन या इससे पहले रिपोर्ट करनी होगी। ऐसा नहीं होने की स्थिति में संबंधित उम्मीदवार को निर्णाय राउंड में मौका नहीं मिलेगा।

 

---
सेना में नौकरी के बहाने धोखा, महिला समेत दो गिरफ्तार
बेंगलूरु. पुलिस आयुक्त कार्यालय के केंद्रीय अपराध जांच शाखा (सीसीबी) अधिकारियों ने सेना में नौकरी दिलाने के बहाने कई शिक्षित युवकों को धोखा देने के आरोप मेंं एक महिला समेत दो लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस के अनुसार एक युवक दीपूशंकर ने हेब्बाल पुलिस थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई कि एक महिला और एक व्यक्ति ने उसे और अन्य कई युवकों को सेना में फौजी, चालक, लिपिक, चपरासी और तकनीकी पद दिलाने के बहाने एक से दो लाख रुपए तक लिए है।

युवकों को जाली नियुक्ति पत्र देकर शारीरिक परीक्षा के बहाने ऊटी और जबलपुर ले जाकर धोखा दिया है। पुलिस आयुक्त टी. सुनील कुमार ने मामला गंभीर होने पर उसे सीसीबी के हवाले किया। सीसीबी अधिकारियों ने मामले की जांच कर कोलार जिले केजीएफ की रहने वाली सोफिया सुजाता (42) और वी.नागेवाहल्ली के कृष्णराजन (63) को गिरफ्तार किया। उनसे कई मोबाइल, जाली रोजगार कार्ड, नियुक्ति पत्र, प्रवेश कार्ड, चिकित्सा जांच पत्र और अन्य कई दस्तावेज जब्त किए गए हैं।

दोनों ने खुद को सेना का वरिष्ठ अधिकारी बता कर कई लोगों को धोखा दिया है। दोनों सेना के वरिष्ठ अधिकारियों की वर्दी भी पहनते थे। उनके खिलाफ 2013 में भी हलसूर पुलिस थाने में मामला दर्ज किया गया था। इस मामले में ज्योतिलक्ष्मी और महबूब पाशा नामक दो आरोपी फरार हैं और पुलिस उन्हें तलाश कर रही है।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned