कन्नड़ फिल्म उद्यम संदलवुड को चाहिए विशेष पैकेज

मौजूदा स्थिति से उबरने के लिए काफी लंबा इंतजार करना होगा।

By: Sanjay Kulkarni

Published: 24 Jul 2020, 10:38 PM IST

बेंगलूरु. लॉकडाउन के कारण कन्नड़ फिल्म उद्योग संदलवुड की गतिविधियां लगभग छह माह से ठप हैं। संदलवुड को मौजूदा स्थिति से उबरने के लिए काफी लंबा इंतजार करना होगा। मौजूदा स्थिति पर विचार-विमर्श करने के लिए संदलवुड के कलाकार, निर्माता, निर्देशक तथा थिएटर मालिकों ने शुक्रवार को अभिनेता शिव राजकुमार के निवास पर बैठक की।

बैठक में विशेष पैकेज की मांग को लेकर मुख्यमंत्री से मुलाकात का फैसला किया गया है। फिल्म निर्माताओं ने तैयार फिल्मों का प्रदर्शन नहीं होने के कारण उन्हें हो रहे नुकसान का जिक्र किया और फिल्म उद्योग से जुड़े हजारों लोगों के बेरोजगार होने पर चिंता जताई।

बैठक में कहा गया कि डॉ राजकुमार और अंबरीश जैसे वरिष्ठ कलाकारों के नहीं रहने से अब संदलवुड नेतृत्वहीन हो चुका है। इसलिए सभी ने शिव राजकुमार से नेतृत्व करने की अपील की। बैठक में फिल्म निर्माता संघ के अध्यक्ष डीके प्रवीणकुमार, कर्नाटक फिल्म चेंबर ऑफ कॉमर्स के पूर्व अध्यक्ष एसआर गोविंद, निर्माता चन्नेगौडा, फिल्म निर्देशक एसवी राजेंद्रसिंह बाबू, केएफसीसी के उपाध्यक्ष उमेश बणकार अभिनेता साधू कोकिला उपस्थित थे।

राज्य में अच्छी बारिश

बेंगलूरु. राज्य के तटीय कर्नाटक, उत्तर अंदरूनी कर्नाटक, मलनाडु, दक्षिण अंदरूनी कर्नाटक के सभी जिलों मे जून तथा जुलाई माह में अच्छी बारिश हुई है। इन जिलों में बुवाई का कार्य जोरों पर है।कृषि विभाग के निदेशक के.श्रीनिवास के अनुसार मौसम विभाग ने अगले सप्ताह भी बारिश का दौर बरकरार रहने की भविष्यवाणी की है।

जुलाई के दूसरे सप्ताह में बारिश ने जोर पकड़ा है। जिस परिणाम स्वरूप कई जिलों में अभी तक 90 फीसदी से अधिक बुवाई हो गई है।उत्तर कर्नाटक के धारवाड़, बेलगावी, हैदराबाद-कर्नाटक के बीदर, रायचूर, कोप्पल, यादगिर, बल्लारी, कलबुर्गी जिले में इस बार मलनाडु क्षेत्र से भी अधिक बारिश हुई है।

उधर, कावेरी जलबहाव क्षेत्र में अब बारिश क्षीण होने के कारण यहां के हारंगी, कबिनी, कृष्ण राज सागर (केआरएस) तथा हेमावती बांधों में पानी की आवक में गिरावट आई है।

Sanjay Kulkarni Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned