बांधो की सुरक्षा के प्रति गंभीर नहीं राज्य सरकार

राज्य में स्थित 231 प्रमुख बांधों की सुरक्षा को लेकर राज्य सरकार गंभीर नहीं है। केंद्रीय जल आयोग (सीडब्लूसी) ने इन बांधों की सुरक्षा को लेकर स्टेट डैम सेक्युरिटी आर्गनाइजेशन (एसडीएसओ) का गठन करने का निर्देश दिया है इस निर्देश के एक वर्ष के बाद भी राज्य सरकार एसडीएसओ का गठन करने में विफल रही है।जबकि महाराष्ट्र तथा गुजरात में डीएसओ अस्तित्व में आ गया है।

By: Sanjay Kulkarni

Published: 27 Nov 2019, 07:55 PM IST

बेंगलूरु.राज्य में स्थित 231 प्रमुख बांधों की सुरक्षा को लेकर राज्य सरकार गंभीर नहीं है। केंद्रीय जल आयोग (सीडब्लूसी) ने इन बांधों की सुरक्षा को लेकर स्टेट डैम सेक्युरिटी आर्गनाइजेशन (एसडीएसओ) का गठन करने का निर्देश दिया है इस निर्देश के एक वर्ष के बाद भी राज्य सरकार एसडीएसओ का गठन करने में विफल रही है।जबकि महाराष्ट्र तथा गुजरात में डीएसओ अस्तित्व में आ गया है।
अभी तक राज्य में गठन नहीं
राज्य के विभिन्न जिलों में स्थित 231 बांधों में से 44 बांधों का निर्माण 100 वर्ष पहले किया गया है।इस वर्ष राज्य में बारी बारिश के कारण लगभग सभी बांध लबालब हुए है।केंद्र सरकार ने वर्ष 2017 में बांधों की सुरक्षा को लेकर एक कानून ही पारित किया है। ऐसे बांधों की सुरक्षा के लिए राज्य सरकार को एसडीएसओ का गठन करना अनिवार्य है।राज्य के कई बांधो को आतंककारी संगठन निशाना बना सकते है।डीएसओ सीधे केंद्रीय जल आयोग की व्याप्ति में अपना दायित्व निभाता है।
मामला आगे नहीं बढ़ा
इस परिप्रेक्ष में केंद्र सरकार ने राज्य सरकार को बांधों की सुरक्षा कडी करने के लिए सूचित करने के साथ इस कार्य के लिए विशेष रूप से प्रशिक्षित एक अलग बल गठित करने का निर्देश जारी किया है। इस निर्देश को जारी करने के लिए अभी तक जलसंसाधन विभाग के वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों की बैठक में केवल एक बार विचार-विमर्श के बाद इस प्रस्ताव को राज्य सरकार को भेजा गया इसके अलावा यह मामला आगे नहीं बढ़ सका है।
क्या कहते है अधिकारी
जलसंसाधन विभाग के मुख्य अभियंता बीके राजेंद्र के अनुसार डीएसओ के गठन को लेकर अक्टूबर माह में बैठक हुई है। केंद्रीय जल आयोग के निर्देशों के तहत राज्य सरकार के लिए डीएसओ का गठन करना अनिवार्य है। गठन को लेकर प्रशासनिक प्रक्रिया जारी है।लिहाजा शीघ्र ही डीएसओ का गठन किया जाएगा। जलसंसाधन विभाग की व्याप्ति में 75 बांध, लघु सिंचाई विभाग की व्याप्ति में 135, केपीसीएल की व्याप्ति में 15, बीडब्लूएसएसबी की व्याप्ति में 2,केआईओसीएल की व्याप्ति में 4 बांध आते है।

Sanjay Kulkarni Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned