गुजरात के रास्ते पर चला कर्नाटक, जानिए क्या है मामला

Karnataka also Reduces Traffic Violation Fine, यातायात नियमों के उल्लंघन पर भारी जुर्माने से मिलेगी थोड़ी राहत, गुजरात सरकार का अनुसरण करते हुए राज्य सरकार ने उठाए कदम

By: Santosh kumar Pandey

Published: 11 Sep 2019, 08:28 PM IST

बेंगलूरु. मुख्यमंत्री बीएस येडियूरप्पा ने परिवहन विभाग को निर्देश दिए हैं कि यातायात नियमों के उल्लंघन पर किए जाने वाले भारी जुर्माने में तुरंत प्रभाव से कटौती करे। मुख्यमंत्री ने गुजरात सरकार की ओर से इस संदर्भ में उठाए गए कदमों पर चलते हुए यह घोषणा की है।

येडियूरप्पा ने बुधवार को यहां समीक्षा बैठक के दौरान परिवहन विभाग के अधिकारियों से कहा कि वे देखें कि गुजरात सरकार ने किस तरह जुर्माने की राशि में कटौती करने के रास्ते निकाले हैं। मुख्यमंत्री कार्यालय की ओर से जारी बयान के मुताबिक येडियूरप्पा ने कहा कि जुर्माने की भारी राशि से जनता त्रस्त है। इससे काफी असुविधाएं हो रही हैं और उस पर तुरंत गौर करने की जरूरत है।

यातायात नियमों के उल्लंघन जुर्माने की भारी राशि के खिलाफ विरोध पर उतरे लोगों का कहना है कि सड़क सुविधा बेहतर नहीं है। सरकार की ओर से सुविधाएं तो नहीं मिल रही हैं लेकिन जुर्माना बेतहाशा वसूला जा रहा है।

https://www.patrika.com/bangalore-news/bengaluru-police-collected-huge-fine-5077866/

इससे पहले राज्य के उपमुख्यमंत्री और परिवहन विभाग संभाल रहे लक्ष्मण सवदी ने कहा था कि जुर्माने की राशि में कोई कटौती नहीं की जाएगी। लेकिन, मुख्यमंत्री के साथ बैठक के तुरंत बाद उन्होंने कहा कि गुजरात सरकार की तर्ज पर राज्य सरकार ने भी जुर्माने की राशि में कटौती का फैसला किया है।

इससे पहले गुजरात सरकार ने कहा था कि यातायात नियमों के उल्लंघन पर जो जुर्माना लगाया जा रहा है, वह प्रावधानों के मुताबिक अधिकतम सीमा है। गौरतलब है कि नया मोटर वाहन अधिनियम जुलाई में संसंद में पास हुआ था। यह नियम 1 सितंबर से प्रभाव में आया जबकि कर्नाटक सरकार ने इसे 3 सितंबर से लागू किया है।

Santosh kumar Pandey Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned