कर्नाटक : रेजिडेंट चिकित्सक सात को ठप करेंगे काम

  • आइसीयू, कोविड व आपातकालीन सेवाएं प्रभावित नहीं होंगी

By: Nikhil Kumar

Published: 06 Oct 2021, 05:26 PM IST

बेंगलूरु. फीस में छूट, कोविड जोखिम भत्ते का भुगतान व समय पर स्टाइपेंड (वृत्तिका) आदि मांगों को लेकर कर्नाटक एसोसिएशन ऑफ रेजिडेंट डॉक्टर्स (केएआरडी) गुरुवार को हड़ताल करेंगे। हालांकि आइसीयू, कोविड व आपातकालीन सेवाएं प्रभावित नहीं होंगी।

केएआरडी की अध्यक्ष डॉ. नम्रता सी. ने मंगलवार को बताया कि कोविड महामारी के खिलाफ लड़ाई में रेजिडेंट चिकित्सक शुरू से ही मुस्तैद हैं। कई बार आश्वासन के बावजूद सरकार ने महीनों से कोविड जोखित भत्ता नहीं दिया है। चिकित्सकों का ज्यादातर समय कोविड ड्यूटी में बिता है। शैक्षणिक गतिविधियां प्रभावित हुईं।

रेजिडेंट चिकित्सक चुनी हुई विशिष्टताओं में नैदानिक प्रशिक्षण से भी वंचित रह गए। ऐसे में वे सरकार से शैक्षणिक वर्ष 2020-21 की फीस घटाने की मांग दोहराती हैं। वर्ष 2018-19 के अनुसार शैक्षणिक शुल्क का पुनर्गठन होना चाहिए। यह मांग भी लंबे समय से लंबित है। सरकार जवाब तक देने के लिए तैयार नहीं है। रेजिडेंट चिकित्सक हड़ताल करने पर मजबूर हो गए हैं।

Nikhil Kumar Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned