दूसरे राज्यों से लौटे 40 लोग मिले पॉजिटिव, एक दिन में 54 मामले

  • कोरोना का कहर : अभी तक एक दिन में सर्वाधिक मामलों की पुष्टि
  • 39 मरीज राजस्थान और गुजरात से लौटे
  • 848 हुई राज्य में मामलों की संख्या, 422 हुए ठीक
  • एक और मरीज की मौत

By: Nikhil Kumar

Published: 10 May 2020, 10:26 PM IST

बेंगलूरु. प्रदेश में रविवार को 54 नए कोरोना मरीजों की पुष्टि हुई है। जो अब तक एक दिन सबसे ज्यादा है। इनमें बेंगलूरु शहरी की 56 वर्षीय महिला मरीज (पी- 846) की मृत्यु हो गई। कोरोना से प्रदेश में अब तक 31 मरीजों ने जान गंवाई है। प्रदेश में पॉजिटिव मरीजों का आंकड़ा 848 पहुंच गया है। इनमें से 422 मरीज कोरोना से जिंदगी की जंग जीत घर लौट चुके हैं। इनमें से 36 मरीजों को रविवार को छुट्टी मिली। सबसे ज्यादा 13 मरीज कलबुर्गी से और आठ विजयपुर से हैं।

सात मई को हुई मौत

महिला (पी- 846) की मौत सात मई को हुई थी। कोरोना जांच रिपोर्ट शनिवार देर शाम आई। जिसमें कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि हुई। इस महिला को सबसे पहले चार मई को शहर के एक निजी अस्पताल में भर्ती किया गया था। लेकिन सिवियर एक्यूट रेस्पिरेटरी इंफेक्शन (एसएआरआइ) के कारण छह मई को उसे दूसरे निजी अस्पताल ले जाया गया था। कोरोना का शक होने के कारण छह मई को ही उसे विक्टोरिया कोविड अस्पताल में भर्ती कराया गया था। अगले दिन सात मई को महिला ने अस्पताल में अंतिम सांस ली। इसके साथ ही बेंगलूरु में कुल आठ कोविड मरीजों की मौत हो चुकी है। हालांकि एक की मौत गैर कोविड कारणों से हुई थी। बेंगलूरु शहरी में मिले कुल 177 मरीजों में से 86 मरीज पूरी तरह से ठीक हो घर लौट चुके हैं। 83 एक्टिव मरीज उपचाराधीन हैं।

तीन दिन, 143 मरीज

पिछले तीन दिन में 143 मरीज कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। इनमें से अन्य राज्यों से कर्नाटक पहुंचने के बाद पॉजिटिव पाए गए मरीज ज्यादा है। यानी गत एक सप्ताह से अन्य राज्यों में फंसे लोगों का कर्नाटक आने का जो सिलसिला शुरू हुआ है वो कर्नाटक पर भारी पड़ रहा है। विदेशों से लेकर अन्य राज्यों से बड़ी संख्या में लोग कर्नाटक पहुंचने वाले हैं। स्वास्थ्य अधिकारियों के अनुसार मरीज और बढ़ेंगे। लेकिन स्वास्थ्य विभाग निपटने के लिए तैयार है। 54 में से 39 मरीज राजस्थान के अजमेर और गुजरात के अहमदाबाद से लौटे थे।

राजस्थान से लौटे 22 संक्रमित

54 में से 22 मरीज अकेले बेलगावी जिले से हैं। इनमें आठ बाल मरीज भी हैं। तीन, 17 और 14 वर्ष की बालिका संक्रमित हुई है। जबकि तीन, छह, 10, 12 और 14 वर्ष के पांच बालक भी चपेट में आ गए हैं। सभी 22 मरीज राजस्थान के अजमेर से लोटे थे।

बागलकोट के मरीजों में तीन बच्ची

बागलकोट जिले में भी आठ मरीजों की पुष्टि हुई है। इनमें दो, आठ और 12 वर्ष की लड़कियां हैं। आठों मरीज राजस्थान के अजमेर से लौटे थे। बागलकोट पहुंचने के बाद जांच के लिए सभी के नमूने लिए गए थे। रविवार को आई रिपोर्ट में सभी पॉजिटिव निकले।
दावणगेरे में एक ही मामला सामने आया है। 22 वर्षीय यह युवा भी राजस्थान के अजमेर की यात्रा से लौटा था।

अहमदाबाद से लौटे आठ और पॉजिटिव

गुजरात के अहमदाबाद से बस में शिवमोग्गा लौटे 20 से 65 वर्ष के आठ पुरुष मरीज कोरोना वायरस संक्रमित मिले हैं। शुक्रवार और शनिवार को अहमदाबाद से ही लौटे नौ और मरीजों में पहले ही संक्रमण की पुष्टि हो चुकी है। ऐसे मरीजों की संख्या बढ़कर 17 पहुंच गई है।

सातों सेकंडरी कॉन्टैक्ट

उत्तर कन्नड़ जिले के भटकल में पॉजिटिव मरीज मिलने का सिलसिला जारी है। सात नए मरीज मिले हैं। इनमें 15 और 16 वर्ष के दो बालक भी हैं। सभी पुराने मरीज (पी-659) से संक्रमित हुए हैं। इनमें से चार मरीज, पी-659 के सेकंडरी कॉन्टैक्ट हैं। शनिवार को उत्तर कन्नड़ में आठ मरीज मिले थे। इनमें से छह मरीज, पी-659 के कारण ही संक्रमित हुए थे।

इन्फ्लूएंजा और एसएआरआइ के दो मामले

बेंगलूरु शहरी में केवल तीन मरीज संक्रमित हुए हैं। सिवियर एक्यूट रेस्पिरेटरी इंफेक्शन (एसएआरआइ) के कारण भर्ती कर जांचे गए 56 वर्षीय पुरुष मरीज कोरोना संक्रमित निकला। 60 वर्षीय एक अन्य पुरुष मरीज को इन्फ्लूएंजा के लक्षणों के साथ भर्ती किया गया था। जबकि कंटेनमेंट जोन घोषित वार्ड संख्या - 135 में किसी पॉजिटिव मरीज के संपर्क में आने से 29 वर्ष का एक पुरुष भी संक्रमित हो गया।

चिक्कबल्लापुर और कलबुर्गी में भी पांच संक्रमित

एक मरीज चिक्कबल्लापुर जिले के चिंतामणि से हैं। 22 वर्षीय युवक, पुराने मरीज (पी-790) के कारण संक्रमित हुआ। कलबुर्गी जिले में सामने आए चार मरीजों में से 35 वर्ष के एक पुरुष मरीज को सिवीयर एक्यूट रेस्पिरेटरी इंफेक्शन के कारण भर्ती किया गया था। 30 वर्षीय एक अन्य पुरुष मरीज महाराष्ट्र की यात्रा कर लौटा था। जबकि पुराने मरीज (पी-604) के कारण 71 वर्षीय तीसरा पुरुष मरीज संक्रमित हो गया। चौथे मरीज की उम्र 35 वर्ष है। इन्फ्लूएंजा के लक्षणों के साथ इस मरीज को अस्पताल में भर्ती किया गया था।

Show More
Nikhil Kumar Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned