संडे लॉकडाउन के कारण राज्य भर में पसरा सन्नाटा

- बाजार बंद,सड़कें सूनी रही, घरों में रहे लोग - उल्लंघन करने वालों की पुलिस ने ली खबर

बीएमटीसी व केएसआरटीसी की बसें नहीं चलीं। इक्का-दुक्का छोड़कर ऑटो रिक्शा, टैक्सी भी सड़कों से नदारद रही। आवश्यक सेवाओं को छोड़ शेष सभी दुकानें व बाजार बंद रहे। शराब की दुकानें और देवस्थान भी बंद रहे। शहर के कैंपेगौड़ा बस स्टैंड पर सन्नाटा रहा और चंद आटो रिक्शा को छोड़कर वाहनों का यातायात ठप रहा। शहर के भीड़ भीड़ वाले इलाके मल्लेश्वरम, जयनगर, मैजेस्टिक, केजीरोड, राजाजीनगर, बनशंकरी, गांधी बाजार, कत्रीगुप्पे, विध

By: Surendra Rajpurohit

Published: 06 Jul 2020, 07:10 PM IST

बेंगलूरु. संडे लॉकडाउन के दौरान राज्य में बाजार बंद रहे। वाहन नहीं चलने से सड़कें सूनी रहीं और लोगों ने घर में रहकर कफ्र्यू पूरा समर्थन दिया। हालांकि बेंगलूरु के शिवाजी नगर, यशवंतपुर मार्केट सहित कुछ इलाकों में लोगों ने कफ्र्यू का उल्लंघन किया लेकिन पुलिस की सख्ती के कारण लोगों को घर लौटना पड़ा।

 

पूर्व में भी रविवार को लॉकडाउन किया गया था लेकिन इस बार यह काफी सख्त रहा। शनिवार की शाम 8 बजे से सोमवार सुबह 5 बजे तक 33 घंटों के लिए लगाए गए लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराने के लिए बेंगलूरु शहर में पुलिस का कड़़ा पहरा रहा और पुलिसकर्मियों ने अनावश्यक रूप से घर से बाहर निकलने वालों की खबर ली।

 

बीएमटीसी व केएसआरटीसी की बसें नहीं चलीं। इक्का-दुक्का छोड़कर ऑटो रिक्शा, टैक्सी भी सड़कों से नदारद रही। आवश्यक सेवाओं को छोड़ शेष सभी दुकानें व बाजार बंद रहे। शराब की दुकानें और देवस्थान भी बंद रहे। शहर के कैंपेगौड़ा बस स्टैंड पर सन्नाटा रहा और चंद आटो रिक्शा को छोड़कर वाहनों का यातायात ठप रहा। शहर के भीड़ भीड़ वाले इलाके मल्लेश्वरम, जयनगर, मैजेस्टिक, केजीरोड, राजाजीनगर, बनशंकरी, गांधी बाजार, कत्रीगुप्पे, विधानसौधा सहित तमाम इलाकों में बाजार बंद रहे और सड़कें सूनी रही।

भास्कर राव का अनुरोध

 

शहर पुलिस आयुक्त भास्कर राव ने ट्वीट करके कहा कि बेंगलूरु शहर में लॉकडाउन शनिवार की रात 8 बजे से शुरू होता है और सोमवार सुबह 5 बजे समाप्त होता है। आदरणीय नागरिकों, सिर्फ घर पर रहें और किसी तरह की छूट की मांग नहीं करें क्योंकि सबके हित में ऐसा किया जा रहा है। यदि एक दिन के लिए आप काम स्थगित कर देंगे तो इससे कोई पहाड़ टूटकर नहीं गिरेगा। कृपया स्व अनुशासन का पालन करें और सहयोग करें।

 

दूसरे शहरों के हाल

 

मेंगलूरु, दावणगेरे, शिवमोग्गा, मैसूरु, रामनगर, कलबुर्गी, यादगीर, बीदर, रायचूर, हासन, बेलगावी, विजयपुरा, तुमकूरु, धारवाड़, चित्रदुर्गा, बल्लारी सहित तमाम जिलों में संडे लॉकडाउन सफल रहा और कोरोना से लड़ाई के लिए सरकार द्वारा उठाए इस कदम का लोगों ने समर्थन किया। शिवाजी नगर व यशवंतपुर मार्केट इलाकें में सुबह बड़ी संख्या में लोग घरों से निकले और सामाजिक दूरी बनाए रखने का उल्लंघन कर दुकानों पर आवश्यक सामान व फल-सब्जियों की खरीददारी करने लगे।

 

मंड्या में भी सर विश्वेश्वरैया स्टेडियम में खोले गए अस्थाई मार्केट में लोग सामाजिक दूरी का उल्लंघन कर बड़ी संख्या में सामान खरीदने पहुंच गए। कलबुर्गी में लॉकडाउन के कारण आम जनजीवन ठप रहा और जिला प्रशासन ने आवश्यक सेवाओं को छोड़कर कोई इजाजत नहीं दी।

तटीय शहर मेंगलूरु व दक्षिण कन्नड़ जिले के उपनगरीय इलाकों में सन्नाटा पसरा रहा और लोगों ने कोरोना की रोकथाम के लिए लगाए पूर्ण लॉकडाउन को समर्थन दिया। दुकानें व बाजार बंद रहे और सड़कों पर वाहन नहीं दिखे। वेकल आपात सेवाओं की ही अनुमति दी गई। लॉकडाउन के उल्लंघन पर नजर रखने के लिए सभी इलाकों में पुलिस तैनात रही।

 

मैसूरु शहर में अधिकतर सड़कें सूनी रही और भीड़भाड़ वाले इलाके केआर सर्कल, मार्केट, सयोजी राव रोड, मंडी मोहल्ला, अशोक रोड सहित शहर के तमाम उपनगरीय इलाकों में लोग घरों से बाहर नहीं निकले। इस दौरान यातायात ठप रहा और केवल आपात व आवश्यक सेवाओं की ही अनुमति दी गई।

COVID-19
Surendra Rajpurohit Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned