CWMA meeting : अच्छी बारिश हुई तो ही कर्नाटक छोड़ेगा पानी

CWMA meeting : अच्छी बारिश हुई तो ही कर्नाटक छोड़ेगा पानी

Santosh Kumar Pandey | Publish: Jun, 25 2019 07:48:30 PM (IST) Bangalore, Bangalore, Karnataka, India

  • कावेरी जल प्रबंधन की बैठक
  • पानी और मौसम पर भी हुआ विचार
  • बैठक में कर्नाटक के अलावा तमिलनाडु, केरल और पुद्दुचेरी के प्रतिनिधियों ने की शिरकत

बेंगलूरु. Cauvery Water Management Authority (सीडब्लूएमए) ने कर्नाटक से कहा है कि अगर कावेरी बेसिन में अच्छी बारिश होती है और जलाशयों में जल का अंतर्वाहसामान्य हो जाता है तो वह तमिलनाडु को जून और जुलाई माह के कोटे का पानी छोड़े।

सीडब्लूएमए के अध्यक्ष एस.मसूद हुसैन की अध्यक्षता में नई दिल्ली में हुई बैठक में कावेरी बेसिन क्षेत्र में जून तक हुई बारिश और उसमें आई कमी पर भी विचार किया गया। लगभग दो घंटे तक चली इस बैठक में कर्नाटक के अलावा तमिलनाडु, केरल और पुद्दुचेरी के प्रतिनिधियों ने शिरकत की।

बैठक के बाद हुसैन ने कहा कि कर्नाटक को जून महीने के कोटे का 9.19 टीएमसी फीट और जुलाई माह के कोटे का 31.24 टीएमसी फीट पानी बिलिगुंडलु अंतरराज्यीय जल मापन केंद्र पर छोडऩा होगा। हालांकि, प्राधिकरण ने यह भी सुनिश्चित किया कि कर्नाटक तभी पानी छोड़ेगा जब बारिश अच्छी हो और जलाशयों में जल की आवक सामान्य हो जाए।

प्राधिकरण ने बैठक में कावेरी बेसिन क्षेत्र में जल वर्ष 2019-20 के बारिश की स्थिति, जल भंडारण और मौसम के हालात की व्यापक समीक्षा की। बैठक में इस बात का उल्लेख किया गया कि 1 से 20 जून के बीच कावेरी बेसिन के जलाशय कृष्णराज सागर (केआरएस) और कबिनी के जलग्रहण क्षेत्रों में सामान्य से काफी कम बारिश हुई है। यह भी माना गया कि कर्नाटक के कावेरी बेसिन के सभी चार जलाशयों में 24 जून तक कुल मिलाकर केवल 1.771 टीएमसी फीट पानी था। वहीं, बिलिगुंडलु में 23 जून तक जल की आवक 1.8 8 8 टीएमसी था।

इस मामले पर विस्तार से विचार किया गया कि पंचाट के अंतिम निर्णय के मुताबिक कर्नाटक को जून और जुलाई माह का निर्धारित पानी तमिलनाडु के लिए छोडऩा चाहिए। पुद्दुचेरी के हिस्से का भी पानी छोडऩे की बात हुई। हालांकि, तमिलनाडु ने कहा कि उसे उसके हिस्से का पानी नहीं मिला है लेकिन यह माना गया कि मानसून समान्य नहीं रहने से जलाशयों में पानी नहीं है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned