अपने विधायकों को काबू में रखें सिद्धरामय्या: सांसद शोभा करंदलाजे

अपने विधायकों को काबू में रखें सिद्धरामय्या: सांसद शोभा करंदलाजे

Shankar Sharma | Publish: May, 17 2019 11:09:26 PM (IST) Bangalore, Bangalore, Karnataka, India

सांसद शोभा करंदलाजे ने कहा है कि पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धरामय्या में ताकत हो तो अपने विधायकों को काबू में रखें।

हुब्बल्ली. सांसद शोभा करंदलाजे ने कहा है कि पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धरामय्या में ताकत हो तो अपने विधायकों को काबू में रखें। आपके विधायक कहां हैं, उन्हें समझाइशी करने का काम आपका है। काम करना सम्भव नहीं हो सके तो हाथों में चूडिय़ां पहन लें। शहर में पत्रकारों से बातचीत करते हुए शोभा करंदलाजे ने कहा कि सिद्धरामय्या मुख्यमंत्री बनने का सपना देख रहे हैं। इसलिए खुद की तुलना देवराज अरस से कर रहे हैं।

देवराज अरस की तुलना करने की नैतिकता सिद्धरामय्या में नहीं है। अपनी पार्टी की उपलब्धि के बारे में बयान दें इसे छोडक़र सिद्धरामय्या मुंह खोलते ही भाजपा, प्रधानमंत्री मोदी तथा भाजपा प्रदेशाध्यक्ष बीएस येड्डियूरप्पा के खिलाफ बयान देते हैं। शोभा ने कहा कि येड्डियूरप्पा ने कहीं पर भी खुद मुख्यमंत्री बनूंगा नहीं कहा है।

सिद्धरामय्या व डीके शिवकुमार खुद मुख्यमंत्री बनने के बयान दे रहे हैं। सिद्धरामय्या मुख्यमंत्री बनने के लिए अपने विधायकों को उकसा रहे हैं। कमीशन की राशि लेकर जाएंगे कह कर कांग्रेस ने डीके शिवकुमार को चुनाव की जिम्मेदारी दी है। पैकेज डील की दरिद्रता जाधव परविार को नहीं आई है। हार के भय से गठबंधन सरकार के नेता इस प्रकार के आरोप लगा रहे हैं।

चुनाव आचार संहिता की पालना के निर्देश
धारवाड़. कुंदगोल विधानसभा मतक्षेत्र-70 के निर्वाचन अधिकारी ने चुनाव आचार संहिता की पालना के निर्देश जारी किए हैं। उन्होंने कहा कि मतदान 19 मई से तीन दिन पूर्व प्रचार अवधि पूर्ण होने तक तथा बाद में मतदान के दिन तक अगर कोई भी 50 हजार से अधिक नकद राशि लेकर जाते हैं तो उसके साथ सभी पूरक दस्तावेजों का होना अनिवार्य है।

नकदी, गिफ्ट सामग्री, शराब या निशुल्क आहार या मतदाताओं को लालच देने या धमकाने वाले मामले, चुनाव अपराध मात्र ही नहीं दंड संहिता के तहत दंडनीय अपराध हैं। सभी को एसी गतिविधियों से दूर रहना चाहिए। एसी गतिविधियों के बारे में पता चलने पर तुरंत फ्लाइंग दल को, विडियो सर्वलाइंस दल, सी-विजिल एप्लीकेशन में या निर्वाचन अधिकारियों को जानकारी देनी चाहिए।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned