केएसआरटीसी ने कबाड़ बस को बनाया आईसीयू

उपमुख्यमंत्री ने किया उद्घाटन

By: Yogesh Sharma

Published: 20 May 2021, 08:20 PM IST

बेंगलूरु. कर्नाटक राज्य सड़क परिवहन निगम (केएसआरटीसी) ने कोरोना जैसी आपदा को भी एक अवसर मं बदल दिया है। निगम ने कबाड़ पड़ी बसों को जहां ऑक्सीजन बस व एम्बुलेंस में बदल दिया वहीं एक बस को पूरी तरह आईसीयू बस में बदल दिया है। आईसीयू में बदली गई बस को जयनगर के अस्पताल में कोरोना मरीजों के लिए रखवाया जाएगा।
बुधवार को केएसआरटीसी मुख्यालय में आयोजित समारोह में उपमुख्यमंत्री व व परिवहन मंत्री लक्ष्मण एस सावदी, सहकारिता मंत्री एसटी सोमशेखर, केएसआरटीसी के उपाध्यक्ष एम. चंद्रप्पा ने आईसीयू में बदली गई बस का उद््घाटन किया। मंत्रियों ने बस का निरीक्षण किया और निगम के कार्य की सराहना की। इस अवसर पर केएसआरटीसी के प्रबंध निदेशक शिवयोगी सी. कलासद व उच्चाधिकारी भी उपस्थित थे।

उपमुख्यमंत्री सावदी ने कहा कि बस के निर्माण पर दस लाख रुपए का खर्च आया है। इस पूरा खर्च निगम ने वहन किया है। चारों परिवहन निगम इससे पूर्व १२ से अधिक ऑक्सीजन बस तैयार कर कोरोना से लडऩे में मदद कर रहे हैं। इनमें चित्रदुर्ग, चिक्कबल्लापुर, कलबुर्गी के चिक्क मंगलूर और बेंगलूरु में बीएमटीसी से बेलगाम और बेंगलूरु में केएसआरटीसी से ऑक्सीजन बसें शामिल हैं।
दो बसें एम्बुलेंस बसें बनाई
परिवहन निगमों को कोविड के मद्देनजर सभी जिलों में ऑक्सीजन बसें उपलब्ध कराने का निर्देश पहले ही दिया जा चुका है। स्थानीय स्तर पर ऑक्सीजन और चिकित्सा उपकरण संचालित करने के लिए निजी भागीदारी या किसी अन्य अस्पताल भागीदारी की आवश्यकता होती है। परिवहन निगमों की ये सभी सेवाएं पूरी तरह से नि:शुल्क हैं। उन्होंने कहा कि बड़ी संख्या में ऑक्सीजन बसों की आपूर्ति के लिए हैदराबाद का एक स्वयंसेवक पहले ही आगे आ चुका है। स्वास्थ्य मंत्री सुधाकर के साथ भी चर्चा की है और यदि ऐसा किया जाता है तो हम कर्नाटक में और अधिक ऑक्सीजन बसें उपलब्ध करा सकेंगे। बसें सिनोवाइन की तरह ही कोविड मरीजों के अस्पतालों में पहुंचने पर उन्हें तत्काल आराम और ऑक्सीजन देने में मददगार होंगी। ऐसा इसलिए है क्योंकि कई बार अस्पतालों में बैठने के लिए जगह नहीं होती है और ऑक्सीजन सिलेंडर भी नहीं मिलते हैं। ऐसे में ये ऑक्सीजन बसें लोगों की जान बचाने में मददगार साबित हो रही हैं।
बस में मिलेंगी ये सुविधाएं
पांच बिस्तर वाली एम्बुलेंस, प्रत्येक बिस्तर के लिए ऑक्सीजन प्रणाली, रोगी मॉनिटर (बीपी, ऑक्सीजन स्तर, ईसीजी, तापमान) प्रणाली,वेंटिलेटर, आपातकालीन चिकित्सा प्रणाली व जेनरेटर सिस्टम उपलब्ध कराया गया है।

केएसआरटीसी ने कबाड़ बस को बनाया आईसीयू
Yogesh Sharma Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned