कर्नाटक राज्य सड़क परिवहन निगम अगले आदेश तक नहीं लेगा नए कर्मचारी

-अनुबंध पर बड़ी संख्या में बसें देने पर विचार

By: Nikhil Kumar

Published: 18 Oct 2020, 10:17 AM IST

बेंगलूरु. कर्नाटक राज्य सड़क परिवहन निगम (केएसआरटीसी) ने सभी नई भर्तियां स्थगित करने का फैसला किया है और वित्तीय घाटा खत्म करने के लिए आकस्मिक अनुबंध पर बड़ी संख्या में बसें देने पर विचार कर रहा है।

केएसआरटीसी (Karnataka State Road Transport Corporation) के अधिकारियों के साथ शुक्रवार को एक समीक्षा बैठक के दौरान केएसआरटीसी के अध्यक्ष एम. चंद्रप्पा ने कहा कि लॉकडाउन से पहले 8,200 बसें चल रही थीं, जो अब घटकर 5,100 रह गई हैं। लॉकडाउन के पहले प्रतिदिन 30 लाख यात्रियों के मुकाबले अब यात्रियों की संख्या प्रतिदिन 10 लाख रह गई है।

चंद्रप्पा ने कहा कि लॉकडाउन से उत्पन्न निगम की वर्तमान स्थिति चिंताजनक है और सुधार में कई महीने या साल लग सकते हैं। अगले आदेश तक केएसआरटीसी नए कर्मचारियों को भर्ती नहीं करेगा। अनुबंध के तहत बड़ी संख्या में बसें देने की योजना है।

उन्होंने कहा कि परिवहन निगम की बसों के संचालन के पीछे लाभ उद्देश्य नहीं है लेकिन जीवित रहने के लिए निगम को कुछ कड़े कदम उठाने होंगे। यातायात राजस्व के अलावा राजस्व के अन्य स्रोतों पर भी ध्यान देना होगा। संकट के दौरान निगम की वित्तीय मदद करने के लिए चंद्रप्पा ने प्रदेश सरकार के प्रति आभार जताया। इसी के कारण कर्मचारियों को वेतन मिल सका।

Nikhil Kumar Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned