डीजल-पेट्रोल पर टैक्स घटाने वाला चौथा राज्य होगा कर्नाटक, सोमवार को घोषणा संभव

डीजल-पेट्रोल पर टैक्स घटाने वाला चौथा राज्य होगा कर्नाटक, सोमवार को घोषणा संभव

Kumar Jeevendra Jha | Publish: Sep, 16 2018 06:45:25 PM (IST) | Updated: Sep, 16 2018 06:46:46 PM (IST) Bengaluru, Karnataka, India

डीजल-पेट्रोल पर राज्य करों में कटौती का प्रस्ताव

बेंगलूरु. डीजल और पेट्रोल के रोजाना बढ़ते भाव से राज्य में उपभोक्ताओं को थोड़ी राहत मिल सकती है। राज्य सरकार सोमवार को डीजल और पेट्रोल पर करों में कटौती की घोषणा कर सकती है। इससे उपभोक्ताओं को २ से ३ रुपए तक की राहत मिल सकती है। राज्य मेंं अभी पेट्रोल पर 32 फीसदी और डीजल पर 21 फीसदी कर है। 5 जुलाई को पेश संशोधित बजट में मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी ने डीजल और पेट्रोल पर करों में 2-2 फीसदी की वृद्धि की घोषणा की थी, जिससे पेट्रोल 1.14 और डीजल 1.12 रुपए प्रति लीटर महंगा हो गया था। बेंगलूरु में रविवार को पेट्रोल का भाव 84.59 और डीजल 76.10 रुपए प्रति लीटर था।

राज्य मेंं अभी पेट्रोल पर 32 फीसदी और डीजल पर 21 फीसदी कर है

गौरतलब है कि पेट्रोल की कीमत 80 रुपए से अधिक होने के बाद से ही राज्य सरकार पर करों में कटौती के लिए दबाव है। पिछले सप्ताह कुमारस्वामी ने कहा था कि अगर केंद्र सरकार करों में कटौती नहीं करती है तो राज्य सरकार अपने स्तर पर कर में कमी कर जनता को राहत देने की कोशिश करेगी। सचिवालय सूत्रों का कहना है कि मुख्यमंत्री ने इस बारे मेंं वित्त विभाग से सुझाव मांगा था और संचिका मुख्यमंत्री कार्यालय को भेजी जा चुकी है। मुख्यमंत्री एक बार इस बारे में अधिकारियों के साथ बैठक कर संभावित कटौती से राजस्व संग्रहण पर पडऩे वाले असर के बारे में चर्चा कर चुके हैं।

अधिकारियों का कहना है कि सोमवार को मुख्यमंत्री अधिकारियों के साथ बैठक के बाद डीजल और पेट्रोल पर करों में कटौती की घोषणा कर सकते हैं। पड़ोसी आंध्र प्रदेश के अलावा पश्चिम बंगाल और राजस्थान पहले ही पेट्रोल व डीजल पर करों में कटौती की घोषणा कर चुके हैं। पिछले एक सप्ताह के दौरान राजस्थान में वैट में 4 फीसदी की कमी की गई तो पश्चिम बंगाल में कटौती से डीजल-पेट्रोल एक रुपए लीटर सस्ता हुआ। आंध्र प्रदेश में करों में कटौती के बाद डीजल-पेट्रोल दो रुपए लीटर सस्ता हुआ।

Ad Block is Banned