देश के बड़े शहरों में कोरोना के सबसे कम मामले बेंगलूरु में

बेंगलूरु शहरी और बेंगलूरु ग्रामीण जिले को मिलाकर कोरोना संक्रमण के 103 मामलों की पुष्टि हुई है

By: Jeevendra Jha

Updated: 23 Apr 2020, 03:09 PM IST

बेंगलूरु. देश के बड़े शहरों की तुलना में वैश्विक महामारी कोरोना के सबसे कम मामले बेंगलूरु में सामने आए। कर्नाटक के स्वास्थ्य विभाग ने यह दावा बेंगलूरु व देश के दूसरे बड़े शहरों में कोरोना मरीजों के आंकड़ों के विश्लेषण के आधार पर यह दावा किया है।
राज्य के कोविड-19 प्रवक्ता मंत्री एस सुरेश ने बुधवार को नियमित सांध्यकालीन संवाददाता सम्मेलन में कहा कि बेंगलूरु शहरी और बेंगलूरु ग्रामीण जिले को मिलाकर कोरोना संक्रमण के 103 मामलों की पुष्टि हुई है। बेंगलूरु शहरी जिले में 91 और बेंगलूरु ग्रामीण जिले में 12 मामलों की पुष्टि हुई है।
कुमार ने कहा कि मुंबई मेें सबसे अधिक 3451 मामलों की पुष्टि हुई है जबकि दिल्ली 2081 मामलों के साथ दूसरे स्थान पर है। अहमदाबाद में 1434, इंदौर में 915, पुणे में 665, जयपुर मेें 661, हैदराबाद में 498, चेन्नई में 350 और आगरा में 306 मामलों की पुष्टि हुई है।

कर्नाटक का पहला मामला बेंगलूरु में ही मिला था
स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के मुताबिग बेंगलूरु शहरी व ग्रामीण जिले के 103 मरीजों में से करीब 50 फीसदी कोरोना को मात देकर जिंदगी की जंग जीतने में सफल रहे हैं। दोनों जिलों में 52 मरीजों को अस्पताल से छुट्टी मिल चुकी है। बेंगलूरु शहरी जिले में 91 में से 48 मरीज स्वस्थ होकर घर लौट चुके हैं जबकि चार मरीजों की मौत हो गई और 39 मरीजों का उपचार चल रहा है। बेंगलूरु ग्रामीण जिले में 12 मामलों की पुष्टि हुई है और 4 मरीज स्वस्थ होकर घर लौट चुके हैं। बाकी 8 मरीजों का उपचार चल रहा है। कर्नाटक में कोरोना के पहले मामले की पुष्टि भी बेंगलूरु में 10 मार्च को हुई थी। यह मरीज आईटी पेशेवर था और विदेश से लौटा था। हालांकि, देश में कोरोना से पहली मौत भी 10 मार्च को ही कर्नाटक में ही हुई थी जिसकी पुष्टि स्वास्थ्य विभाग ने 12 मार्च को की थी। मृतक बुजुर्ग भी कुछ दिन पहले विदेश यात्रा से लौटा था।

तीन बाद फिर बेंगलूरु में मिले नए मरीज
कर्नाटक की राजधानी में तीन दिन के बाद बुधवार को फिर दो नए मामलों की पुष्टि हुई। नए मरीजों में एक 28 वर्षीय महिला एक पुराने मरीज में आने के कारण संक्रमित हुई जबकि 54 वर्षीय एक अन्य पुरुष श्वसन की गंभीर समस्या से पीडि़त है। राज्य में सबसे अधिक मामले बेंगलूरु में ही हैं।

Jeevendra Jha
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned