गुरु के मार्गदर्शन से संवरता है विद्यार्थी का जीवन

धर्मस्थल के धर्माधिकारी डॉ. डी. वीरेंद्र हेगड़े ने कहा है कि अधिक अंक हासिल कर परीक्षा में सफल होने वाले विद्यार्थियों को कभी जीवन में हारना नहीं चाहिए।

By: शंकर शर्मा

Published: 02 Mar 2019, 10:51 PM IST

धारवाड़. धर्मस्थल के धर्माधिकारी डॉ. डी. वीरेंद्र हेगड़े ने कहा है कि अधिक अंक हासिल कर परीक्षा में सफल होने वाले विद्यार्थियों को कभी जीवन में हारना नहीं चाहिए। वे कर्नाटक विश्वविद्यालय में जनता शिक्षा समिति की ओर से वार्षिक परीक्षा में रैंक पाने वाले विद्यार्थियों के सम्मान समारोह में बोल रहे थे।


हेगड़े ने कहा कि विद्यार्थियों में छिपे कौशल को पहचानकर उन्हें प्रोत्साहित करना सभी का कत्र्तव्य है। जिस प्रकार वाहन को चलाने के लिए एक चालक की आवश्यकता होती है उसी प्रकार विद्यार्थियों का जीवन उपयुक्त गुरु के मार्गदर्शन से संवरता है।


समारोह में उपस्थित जनता शिक्षा समिति के सचिव डॉ. एन. वज्रकुमार ने कहा कि जेएसएस संस्थान वीरेंद्र हेगड़े की प्रेरणा व प्रोत्साह से निरंतर विकसित हो रहा है। कार्यक्रम का संचालन डॉ. जिनदत्त हडगली ने किया। प्रार्थना गीत विजयश्री हेगड़े ने प्रस्तुत की। अतिथियों का स्वागत वित्तीय अधिकारी डॉ. अजित प्रसाद ने किया। अंत में महावीर उपाध्ये ने धन्यवाद ज्ञापित किया। मंच पर प्रशासन बोर्ड के सदस्य श्रीकांत केम्तूर, एसडीएमई संस्थान के सचिव जीवंधरकुमार उपस्थित थे।

फ्लोराइडयुक्त पानी की समस्या को लेकर निकाली जागरूकता रैली
गदग. फ्लोराइडयुक्त पानी की समस्या के दुष्प्रभावों की जानकारी देने के लिए शहर में विभिन्न विभागों की ओर से जागरूकता रैली निकाली गई। रैली में जिला प्रशासन, जिला पंचायत, जिला स्वास्थ्य तथा परिवार कल्याण विभाग की फ्लोरोसिस इकाई, मदर टेरेसा नर्सिंग कॉलेज, पेरा मेडिकल कॉलेज गदग आदि ने भाग लिया।


रैली को जिला पंचायत की उपाध्यक्ष शकुंतला आर. मूलीमनी ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। उन्होंने लोगों से शुध्द पेयजल का उपयोग कर फ्लोरोसिस के दुष्प्रभाव से बचने का आह्वान किया। उन्होंने बताया कि फ्लोराइडयुक्त पानी के सेवन से पेटदर्द, दस्त, अपच (अजीर्ण), मांस पेशियों में कमजोरी, बार-बार प्यास लगने, बार-बार पेशाब आने आदि समस्याओं का सामना करना पड़ता है। इन समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए शुध्द पेयजल, पोषणयुक्त खाद्य जैसे दूध, गुड़, हरी सब्जी सहित विटामिन सी युक्त सब्जियों का सेवन करना चाहिए।


लहसुन, अदरक व शकरकंद के सेवन से भी फ्लोरोसिस पर नियंत्रण संभव है। रैली शहर के म्यूनिसिपल जूनियर कॉलेज प्रांगण से शुरू हुई जो गांधी चौक, महेंद्रकर चौक, पुराने बसस्टैंड, रोटरी सर्कल से होती हुई पुराने जिला अस्पताल पहुंची। रैली में शिक्षा व स्वास्थ्य स्थाई समिति के अध्यक्ष शिवकुमार एस. नीलगुंद, जिला पंचायत के प्रमुख कार्यकारी मंजुनाथ चौहाण, जिला स्वास्थ्य व परिवार कल्याण अधिकारी डॉ. विरुपाक्ष रेड्डी, आरसीएच अधिकारी डॉ. एसएम होनकेरी मलेरिया अधिकारी डॉ. अरुंधति के. सहित कई उपस्थित थे। अतिथियों का स्वागत शिक्षाधिकारी सुरेश एच. ने किया। जिला समन्वयक बसवराज लालगट्टी, सलाहकार डॉ. आरआर होसमनी, जिला फ्लोरोसिस प्रयोगशाला के एस.के. चौडण्णवर आदि उपस्थिति थे।

शंकर शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned