लोकसभा चुनाव मिलकर लड़ेंगे ओवैसी और आंबेडकर के पौत्र

संविधान निर्माता डॉ. बीआर आंबेडकर के पौत्र और भारतीय रिपब्लिक पार्टी के अध्यक्ष प्रकाश आंबेडकर ने शनिवार को कहा कि आगामी लोकसभा चुनाव में उनकी पार्टी ने असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन के साथ मिलकर महाराष्ट्र और कर्नाटक सहित देश के अन्य हिस्सों में चुनाव लडऩे का निर्णय किया है।

By: शंकर शर्मा

Published: 10 Mar 2019, 01:36 AM IST

बेंगलूरु. संविधान निर्माता डॉ. बीआर आंबेडकर के पौत्र और भारतीय रिपब्लिक पार्टी के अध्यक्ष प्रकाश आंबेडकर ने शनिवार को कहा कि आगामी लोकसभा चुनाव में उनकी पार्टी ने असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन के साथ मिलकर महाराष्ट्र और कर्नाटक सहित देश के अन्य हिस्सों में चुनाव लडऩे का निर्णय किया है। उन्होंने कहा कि देश के लोग कांग्रेस और भाजपा को छोडक़र नए राजनीतिक विकल्प की ओर देख रहे हैं और हमारा गठबंधन एक विकल्प बनेगा।

दोनों दलों के कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि भारत में दो विचारधाराएं हैं, जिसमें एक संविधान के पक्ष में है और दूसरा मनुस्मृति के पक्ष में है। संविधान धर्म, जाति और पंथ के बावजूद सभी को अधिकार देता है, जबकि मनुस्मृति केवल जाति विशेष के लोगों को स्थान देने वाला ग्रंथ है। आज 15 प्रतिशत विशेष जाति वर्ग के लोग 130 करोड़ आबादी पर शासन कर रहे हैं, जबकि एक बड़ा समूह सुशासन, सुविधाओं से वंचित हैं। आज महात्मा गांधी की कांग्रेस एक परिवार की पार्टी बन गई है।


उन्होंने कथित आरोप लगाते हुए कहा कांग्रेस पिछले 60 वर्षों में परोक्ष रूप से राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) को प्रोत्साहित करती रही है। इन दोनों पार्टियों ने आम लोगों का विश्वास खो दिया है, इसलिए यह समय है कि वे स्वयं चुनाव लड़ें और संसद में प्रवेश कर मुद्दों को हल करें। कांग्रेस एवं भाजपा दोनों पार्टियां समाज में विभाजन की राजनीति कर रही हैं। उन्होंने ओवैसी के दल के साथ मिलकर साझा गठबंधन में दक्षिणी क्षेत्र के ११ संसदीय सीटों पर चुनाव लडऩे का दावा किया।

राहुल का भाषण सारहीन: रविकुमार
बेंगलूरु. हावेरी में शनिवार को कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी का भाषण हमेशा की तरह सारहीन तथा अवास्तविक था। इसमें राहुल गांधी ने वही रट लगाई जिसका भाजपा नेतृत्व की ओर से सटीक जवाब दिया जा चुका है। प्रदेश भाजपा के महासचिव एन. रविकुमार ने यह बात कही। शनिवार को उन्होंने कहा कि भाषण में राहुल गांधी ने एक तरह की बातें की हैं।

2014 के चुनाव में पूरे देश में कांग्रेस को 44 सीटें देकर देश की जनता ने कांग्रेस को बता दिया है कि देश की आम जनता कांग्रेस के साथ नहीं बल्कि भाजपा के साथ है। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी ने संप्रग (यूपीए) सरकार के कार्यकाल में ही रफाल युद्धक विमान खरीदने के संबंध में सरासर झूठा बयान दिया है। अगर राहुल गांधी में हिम्मत है तो वे संप्रग सरकार की ओर से खरीदी के लिए जारी किए गए आदेश को सार्वजनिक करें।

शंकर शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned