मां मने घोड़ल्यो मंगवा दे...

मां मने घोड़ल्यो मंगवा दे...

Ram Naresh Gautam | Publish: Sep, 02 2018 04:29:28 PM (IST) Bengaluru, Karnataka, India

पदाधिकारियों ने माला, चुनरी, रजत स्मृति चिह्न एवं अभिनंदन पत्र से ममता मकाणा का सम्मान किया

मैसूरु. समस्त विष्णु समाज के तत्वावधान में चामराजनगर के कन्वेंशन हॉल में 'एक शाम बाबा रामदेव के नामÓ भजन संध्या व रात्रि जागरण आयोजित किया गया। बाबा रामदेव की तस्वीर पर पुष्पहार, ज्योत प्रज्वलन एवं भोग लगाकर पंडित अमृतलाल भट्ट ने पूजा-अर्चना की। कलाकार दलपत भारती गोस्वामी व पार्टी ने 'घोड़ल्यो मंगलवा दे मां मने घोड़ल्यो मंगवा दे...Ó जैसे राजस्थानी लोक भजनों की प्रस्तुति दे माहौल भक्तिमय बना दिया। देर रात तक चले कार्यक्रम में बड़ी संख्या में भक्त शामिल हुए।


संजीवनी है आत्मविश्वास
बेंगलूरु. साध्वी संयमलता, अमितप्रज्ञा, कमलप्रज्ञा, सौरभप्रज्ञा आदि ठाणा-4 के सान्निध्य में तप अभिनंदन समारोह संपन्न हुआ। तपस्वी ममता मकाना के 31 उपवास की पूर्णाहुति पर साध्वी संयमलता ने कहा कि तपस्या करना शूरवीरों का काम है। साध्वी सौरभप्रज्ञा ने कहा कि अपने भीतर आत्मविश्वास का झरना बहने दो। आत्मविश्वास एक संजीवनी है। पदाधिकारियों ने माला, चुनरी, रजत स्मृति चिह्न एवं अभिनंदन पत्र से ममता मकाणा का सम्मान किया। राजाजीनगर युवा संघ, त्रिशला बहू मंडल, ब्राह्मी कन्या मंडल, पारसमल लोढ़ा, सम्पत बडेरा, रमेश बोहरा, सुनील सिंघवी ने माला चुनरी से तपस्वी का बहुमान किया। मंत्री ज्ञानचंद लोढ़ा ने अभिनंदन पत्र का वाचन किया। राष्ट्र संत तरुण सागर के देवलोकगमन पर श्रद्धांजलि सभा का आयोजन हुआ।


संगठन यात्रा शुरू
केजीएफ. मुनि सुव्रत कुमार व मुनि मंगल प्रकाश के सान्निध्य में केजीएफ प्रभारी राजेश चावत ने संगठन यात्रा प्रारंभ की। तेजमल मांडोत ने निष्ठा पत्र का वाचन किया। मुनि सुव्रत कुमार ने कहा कि पद तो एक व्यवस्था है। हमें सदाबहार कार्यकर्ता बनाना है। तेयुप अध्यक्ष नितेश बांठिया ने स्वागत किया। प्रभारी चावत ने रक्तदान शिविर, डायग्नोस्टिक सेंटर, डेंटल केयर, डायलिसिस आदि जनसेवा कार्यों व आगामी योजनाओं की जानकारी दी। कमलेश हिंगड़ ने धन्यवाद दिया।


पर्युषण महापर्व 6 से
बेंगलूरु. वर्धमान स्थानकवासी जैन श्रावक संघ सिटी शाखा की ओर से 6 से 13 सितम्बर तक पर्युषण महापर्व आराधना का आयोजन होगा। मंत्री शांतिलाल गोटावत ने बताया कि 14 सितम्बर को सामूहिक पारणा, क्षमापना का आयोजन होगा।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned