मंत्रो से बनता है रक्षाकवच-साध्वी अणिमाश्री

पैंसठिया अनुष्ठान संपन्न

By: Yogesh Sharma

Published: 30 Dec 2020, 05:09 PM IST

बेंगलूरु. तेरापंथ भवन गांधीनगर में आयोजित 27 दिवसीय जपानुष्ठान में संभागी धर्मपरिषद को सम्बोधित करते हुए साध्वी अणिमाश्री ने कहा जप संभागियों ने अन्तर्जागृकता के साथ स्वयं को अनुष्ठान में योजित किया है। व्यक्ति सम्बंध इस जप-महायज्ञ का अव्यक्त आनंद है। मंत्र साधना से सघन रक्षाकवच का निर्माण होता है। पूर्ण आत्म विश्वास के साथ किया गया जप मनुष्य को लक्ष्य तक पंहुचा देता है। अपेक्षा है मंत्रों की साधना निरन्तर चलती रहे। साध्वी डॉ. मंगलप्रज्ञा ने कहा मंत्र साधना का प्रयोग ऊर्जा प्रदायक और विघ्न विनायक होता है। आभामंडल को पवित्र बनाने के लिए मंत्रों का आलंबन सशक्त विधा है। आकाशीय ऊर्जा कैसे प्राप्त हो? इसके लिए उन्होंने उपस्थित श्रावक समाज को विविध शक्तिवर्धक बीज मंत्रों सहित जप अनुष्ठान करवाए। 27 दिवसीय पैंसठिया छंद जपाराधना में श्रावक-श्राविकाओं ने उत्साह के साथ संभागिता निभाई।

shraddhalu

महिला मंडल अध्यक्ष शांति सकलेचा ने कहा तेरापंथ संघ शक्तिशाली है, शक्तिसम्पन्न गुरु हमारे अंदर शक्ति का संचार करते हैं। साध्वी अणिमाश्री द्वारा हमें अनूठा अनुष्ठान करवाया गया है। सम्पूर्ण संभागियों की ओर से आभार जताते हुए नवीन छाजेड़ ने अग्रिम अनुष्ठान के लिए आग्रह किया। साध्वी कर्णिकाश्री, साध्वी सुदर्शनप्रभा, साध्वी मैत्रीप्रभा एवं साध्वी चैतन्यप्रभा ने पैंसठिया महाछंद आनंदकारी गीत का संगान किया।

Yogesh Sharma Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned