गांधीनगर के समग्र विकास के लिए चाहिए मास्टर प्लान

गांधीनगर के समग्र विकास के लिए चाहिए मास्टर प्लान

Ram Naresh Gautam | Publish: Mar, 14 2018 05:30:32 PM (IST) Bengaluru, Karnataka, India

यही क्षेत्र बेंगलूरु शहर का प्रवेशद्वार है

बेंगलूरु. चिकपेट, नगरथपेट, कॉटन पेट, सुल्तान पेट, बले पेट, मानवरथ पेट, सौराष्ट्र पेट, गांधीनगर तथा आसपास के क्षेत्र शहर के हृदयस्थल होने के कारण इनके बुनियादी ढांचे के समग्र विकास के लिए मास्टर प्लान की दरकार है। यही क्षेत्र बेंगलूरु शहर का प्रवेशद्वार है। लिहाजा इसका ढांचागत विकास प्रशासन का दायित्व है। स्थानीय विधायक तथा कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस समिति के कार्यकारी अध्यक्ष दिनेश गुंडुराव ने यह बात कही।
मंगलवार को पत्रकार वार्ता में उन्होंने कहा कि गांधीनगर विधानसभा क्षेत्र में कन्नड़, तेलगु, तमिल, हिंदी, गुजराती समेत विभिन्न भाषाओं वाले तथा विभिन्न संस्कृतियों वाले लोग बसे हैं। क्षेत्र का विधायक होने के नाते उन्होंने सभी समुदाय के लोगों के साथ अच्छे संबंध रखते हुए सभी समुदायों की समस्याओं के समाधान के हरसंभव प्र्रयास किए हैं।
क्षेत्र में शुद्ध पेयजल आपूर्ति, संपर्क सड़कों के सुधार, समुदाय भवनों के निर्माण जैसे कई विकास कार्य हुए हैं। क्षेत्र की कच्ची बस्तियों के निवासियों को विभिन्न आवासीय योजनाओं के माध्यम से पक्के मकानों का निर्माण किया गया है। व्हाइट टॉपिंग पर अधिक राशि खर्च किए जाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि व्हाइट टॉपिंग किए हुए सड़कों की मरम्मत के लिए बार-बार राशि खर्च करने की आवश्यकता नहीं है। यह सड़कें बगैर किसी मरम्मत 25 से 30 वर्षों तक यथावत रहती हैं। ऐसे में इन सड़कों के निर्माण पर अधिक राशि खर्च करना गलत नहीं है। कांग्रेस सरकार ने इस कार्यकाल में कई विकास कार्य किए हैं। किसान, युवा, महिला विद्यार्थी समेत समाज के हर वर्ग के विकास के लिए विभिन्न योजनाएं जारी की हैं।


यातायात की समस्या का स्थायी समाधान
शहर का एक व्यस्ततम क्षेत्र होने के कारण यहां यातायात की समस्या के स्थायी समाधान के लिए कई फ्लाईओवर तथा अंडर पास बनाए गए हंै। 200 करोड़ रुपए की लागत का सिग्नल मुक्त ओकलीपुरम जंक्शन का कार्य तेजी से चल रहा है। पार्किंग सुविधा के लिए फ्रीडम पार्क के निकट बहुमंजिला भवन बनाया जा रहा है। चिक्कलालबाग, नेहरू नगर तथा जक्कनायकनकेरे में खेलों के प्रोत्साहन के लिए स्टेडियम, जिम सेंटर का निर्माण किया जा रहा है।

भावनाएं भड़का रही है भाजपा
भाजपा सोशल मीडिया के माध्यम से सरकार के बारे में भ्रम फैलाने का प्रयास कर रही है। भाजपा के पास कोई चुनावी मुद्दा नहीं होने के कारण भाजपा के नेता हमेशा की तरह भावनात्मक मुद्दों को उछालने का प्रयास कर रहे हैं।

Ad Block is Banned