हमारा मस्तिष्क सदा शांत और सहज रहे-मुनि सुधाकर

मुनि का प्रवास राम कृष्ण हाई स्कूल में रहेगा

By: Yogesh Sharma

Published: 26 Dec 2020, 08:12 PM IST

बेंगलूरु. मुनि सुधाकर व मुनि नरेश कुमार शनिवार को विहार कर रामनगर पहुंचे। वहां बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं ने उनका स्वागत किया। मुनि ने श्रद्धालुओ को संबोधित करते हुए कहा कि शरीर के सभी अंगों में मस्तिष्क का महत्व बहुत अधिक है। उसे विश्व के सबसे शक्तिशाली कंप्यूटर की उपमा दी जाती है। उसकी सुरक्षा पर हर समय ध्यान देना जरूरी है। जिसका मस्तिष्क शांत और सहज होता है वह शक्तिशाली होता है। किसी भी प्रकार का भावावेश मस्तिष्क को अशांत और उत्तेजित बना देता है, जो मस्तिष्क को शक्तिशाली बनाना चाहते हैं उन्हें सब प्रकार के भावावेश से स्वयं को बचाना चाहिए। दो क्षण का बावावेश शरीर में जहरीले रसायन पैदा करता है। इससे शारीरिक और मानसिक शक्तियां नष्ट होती है। कठिन परिस्थितियों तथा बीमारियों से लडऩे की ताकत खत्म होती है। इसलिए हमें मस्तिष्क को सदा शांत और सहज रखना चाहिए। नियमित रूप से योग साधना करने से तथा अध्यात्म प्रधान जीवन शैली का विकास करने से हम भावावेश पर विजय पा सकते हैं, तथा शांति और सहजता से जी सकते हैं।
मुनि ने जैन साहित्य में वर्णित बाहुबली की वीरता का वर्णन करते हुए कहा जो क्रोध का उत्तर क्रोध से देता है वह सच्चा वीर नहीं है। जो क्रोध और आवेश के उफान को शांत करता है वह सच्चा वीर होता है। उफान रसोई घर में ही नहीं आता हमारे मस्तिष्क के बर्तन में भी उठता है। हमें प्रेक्षा ध्यान के प्रयोग का अभ्यास कर उसे शांत बनाना चाहिए।
मुनि ने कहा भगवान महावीर ने अकाल मृत्यु के जो सात कारण बताए हैं उनमें भावावेश की तीव्रता एक प्रमुख कारण है। भावावेश के कारण शरीर और मस्तिष्क पर बहुत हानिकारक प्रभाव होते हैं। आज हर मनुष्य का जीवन व्यस्त है सबके सामने नाना प्रकार की चुनौतियां है। इस स्थिति में सहजता से जीने का अभ्यास जरूरी है। मनुष्य कर्तव्य का पालन करते हुए भी परिणाम सम्मुख उपस्थिति होता है। उसे प्रसन्नता से स्वीकार करना चाहिए। जो मनुष्य अपने को सर्वशक्तिमान समझते हैं उनका चिंतन सही नहीं है। सभी शरीर धारी प्राणियों की सीमाएं हैं। यदि हम उन सीमाओं को समझले तो सब प्रकार के भावावेश पर विजय पा सकते हैं। मुनि की विहार यात्रा में वरिष्ठ श्रावक मूलचंद नाहर, मंड्या सभा अध्यक्ष खजुरीमल रायसोनी, मंड्या तेयुप अध्यक्ष नितिन भंसाली, संतोष गोठी, प्रमोद श्रीश्रीमाल व बड़ी संख्या में श्रद्धालु सम्मिलित हुए।

Yogesh Sharma Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned