मायावती ने भाजपा और कांग्रेस पर साधा निशाना

मायावती ने भाजपा और कांग्रेस पर साधा निशाना

Sanjay Kumar Kareer | Updated: 26 Apr 2018, 12:45:38 AM (IST) Mysuru, Karnataka, India

बहुजन समाजवादी पार्टी की प्रमुख मायावती ने दोनों को बताया दलित और आरक्षण का विरोधी

बेंगलूरु. बहुजन समाजवादी पार्टी (बसपा) की प्रमुख मायावती ने कहा कि उत्तर प्रदेश गुजरात और राजस्थान के उदाहरणों का हवाला देते हुए भाजपा पर कर्नाटक में जातिवादी, सांप्रदायिक और जहरीली राजनीति के जरिये चुनाव जीतने चाहती है।

मैसूरु में बुधवार को जनता दल ध प्रत्याशी के समर्थन में आयोजित सभा कें उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री ने दलितों, अल्पसंख्यकों और पिछड़े वर्गों की दुर्दशा पर कांग्रेस और भाजपा दोनों पर हमला किया। उन्होंने कहा कि ये पार्टियां हाशिए पर धकेले गए वर्गों को आरक्षण देने का विरोध कर रही थीं।

विशेष रूप से कांग्रेस को लक्षित करते हुए उन्होंने कहा कि पार्टी ने डॉ बीआर अम्बेडकर को भारत रत्न सम्मान तो नहीं दिया लेकिन चुनाव में लाभ के लिए उनके नाम का उपयोग किया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस और भाजपा दोनों मंडल आयोग की सिफारिशें लागू नहीं करना चाहते थे।


मायावती ने कहा कि केंद्र में भाजपा के शासन के दौरान भ्रष्टाचार में वृद्धि हुई है। उन्होंने कहा कि उद्योगपतियों के लिएधन की गंगा बह रही है लेकिन नोटबंदी जैसी चीजों के कारण गरीब और मध्यमवर्गीय लोगों पर मार पड़ी है। कर्नाटक के विधानसभा चुनाव में मायावती की बसपा ने पूर्व प्रधान मंत्री एचडी देवेगौड़ा के नेतृत्व वाले जनता दल (ध) के साथ गठबंधन किया है। अगले चुनाव में बसपा 22 सीटों पर चुनाव लड़ रही है।

कांग्रेस, भाजपा दोनों को सबक सिखाऐंगे मतदाता : कुमारस्वामी

तुमकूरु. भाजपा तथा कांग्रेस ने कृषि तथा किसानों की समस्याओं के स्थायी समाधान के लिए कोई ठोस प्रयास नहीं किए। ाज्य के मतदाता विधानसभा चुनाव में दोनों दलों को सबक सिखाएंगे। जनता दल (ध) के प्रदेश अध्यक्ष एचडी कुमारस्वामी ने यह बात कही।


जिले के गुब्बी विधानसभा क्षेत्र में बुधवार को पार्टी के प्रत्याशी विधायक एसआर श्रीनिवास के लिए चुनाव प्रचार करने पहुंचे कुमारस्वामी ने कहा कि कृषि उपज के उचित खरीदी मूल्य के निर्धारण में केंद्र तथा राज्य सरकार विफल रही हैं। कृषि उपज का अगर उत्पादन खर्च से दो गुणा खरीदी मूल्य निर्धारित किया जाए तो किसानों की समस्याएं सुलझ सकती हैं। ऐसे में किसानों को किसी से ऋण लेने की भी आवश्यकता नहीं है।


उन्होंने कहा कि जनता दल (ध) की सरकार बनते ही वे 24 घंटो में किसानों का 58 हजार करोड़ रुपए का कर्जा माफ करने का फैसला करेंगे। उन्होंने कहा कि राज्य में कांग्रेस तथा भाजपा के खिलाफ माहौल होने से इस बार तमाम चुनाव पूर्व सर्वे रिपोट्र्स को गलत साबित करते हुए जनता उनकी पार्टी के पक्ष में स्पष्ट जनादेश देगी। लिहाजा अबकि बार जद (ध) की सरकार बनना तय है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned