मंत्री ने कहा, राज्य में प्रतिदिन होगा 15 हजार सैम्पल टेस्ट

मंगलवार को 7,936 नमूनों का परीक्षण

By: Santosh kumar Pandey

Published: 17 Jun 2020, 03:51 PM IST

बेंगलूरु. चिकित्सा शिक्षा मंत्री डॉ. के सुधाकर (Karnataka Medical Education Minister Dr K Sudhakar) ने कहा है कि सरकार प्रतिदिन कम से कम 15 हजार कोविड-19 सैम्पल टेस्ट करेगी। राज्य के 41 सरकारी व 31 निजी अस्पतालों के जरिए सैम्पल टेस्ट की क्षमता 25 हजार तक बढ़ाई जाएगी।

बता दें कि राज्य में मंगलवार को केवल 7,936 नमूनों का परीक्षण किया गया। वहीं, सोमवार को 5,362 नमूनों की जांच की गई थी। पिछली बार 15 मई को 5351 नमूनों की जांच की गई थी। राज्य में कोविड-19 जांच लैब की संख्या बढक़र 72 हो चुकी है लेकिन इसी अनुपात में जांच की संख्या नहीं बढ़ी है।

कोविड-19 टास्क फोर्स के नोडल अधिकारी डॉ. सीएन मंजुनाथ ने कहा कि इन दिनों सैम्पल जांच की संख्या कम होने का कारण यह है कि पिछले दिनों अन्य राज्यों से आए लोगों के नमूनों की जांच ज्यादा हो रही थी। अब फिर से रैंडम जांच शुरू की जाएगी।
बता दें कि जांच, मरीजों के इलाज के लिए बेंगलूरु को हाल ही कोलकाता, दिल्ली, चेन्नई, मुम्बई जैसे मेट्रो शहरों से बेहतर माना गया था।

मंगलवार को मिले 317 संक्रमित
बता दें कि कर्नाटक में मंगलवार को कुल 317 लोगों में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई थी। राज्य में सात लोगों की मौत हुई थी। दक्षिण कन्नड़ जिले में 79, कलबुर्गी में 63, बेल्लारी में 53, बेंगलूरु शहरी जिले में 47 लोगों में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई थी।

322 लोग हुए थे डिस्चार्ज
उडुपी में 81, यादगिरी में 50, रायचूर में 46, बेंगलूरु शहरी जिले में 32, मंड्या में 21, विजयपुर में 18 लोगों सहित कुल 322 लोगों को अस्पताल से डिस्चार्ज किया गया था।

COVID-19 virus
Santosh kumar Pandey Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned