मिस्त्री ने जानी नेताओं की राय, अब आलाकमान करेगा फैसला

मिस्त्री ने जानी नेताओं की राय, अब आलाकमान करेगा फैसला
सोनिया गांधी

Jeevendra Jha | Updated: 06 Oct 2019, 11:04:22 PM (IST) Bangalore, Bangalore, Karnataka, India

Karnataka Politics : विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष पद के लिए शक्ति परीक्षण जैसी स्थिति

बेंगलूरु. प्रदेश कांग्रेस Karnataka में चल रहा अंतर्कलह रविवार को फिर खुलकर सामने आ गया। विधानमंडल के दोनों सदनों में नेता प्रतिपक्ष leader of opposition in karnataka के चयन को लेकर Congress पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव मधुसूदन मिस्त्री ने Bengaluru एक होटल में वरिष्ठ नेताओं के साथ बैठक की।
बैठक में विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष पद को लेकर कई नेताओं ने दावेदारी की। कांग्रेस और जद-एस गठबंधन सरकार के समय कांग्रेस विधायक दल के नेता रहे पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धरामय्या के अलावा पूर्व मंत्री एच के पाटिल और पूर्व उपमुख्यमंत्री जी परमेश्वर भी इस पद के दावेदार हैं। मिस्त्री ने ६० से अधिक नेताओं के साथ होटल में एक-एक कर मुलाकात की और इस मसले पर उनकी राय जानी। भाजपा सरकार के सत्ता में आने के दो महीने बाद भी कांग्रेस दोनों सदनों में विपक्ष के नेता का चयन नहीं कर पाई है। १० अक्टूबर से शुरू होने वाले विधानमंडल के तीन दिवसीय सत्र से पहले विपक्ष के नेता के चयन की कवायद शुरू की है। विधायक दल के नेता होने के कारण सिद्धरामय्या इस पद के प्रबल दावेदार माने जा रहे हैं लेकिन कुछ वरिष्ठ नेताओं के विरोध के कारण आलाकमान ने विधायकों व नेताओं की राय जानने के लिए मिस्त्री को बेंगलूरु भेजा है। मिस्त्री ने सिद्धू सहित इस पद के दावेदार नेताओं से भी मुलाकात की। कुछ नेता सिद्धरामय्या का समर्थन कर रहे हैं तो पूर्व केंद्रीय मंत्री के. एच. मुनियप्पा आदि नेता विरोध कर रहे हैं।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned