scriptModi made country strong, no comparison with Nehru: Bommai | मोदी ने देश को मजबूत बनाया, नेहरू से तुलना नहीं : बोम्मई | Patrika News

मोदी ने देश को मजबूत बनाया, नेहरू से तुलना नहीं : बोम्मई

  • बोम्मई ने कहा कि निश्चित रूप से मोदी की तुलना नेहरू से नहीं की जा सकती। चीन के हमले के दौरान नेहरू ने उचित फैसले नहीं लिए और भारत की जमीन को उन्हें दे दिया

बैंगलोर

Published: May 30, 2022 10:32:30 pm

मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने पूर्व प्रधानमंत्री Jawaharlal Nehru और मौजूदा प्रधानमंत्री Narendra Modi का जिक्र किया और कहा कि दोनों की तुलना नहीं की जा सकती। उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी की तारीफ करते हुए बार्डर मामलों व देश की एकता व अखंडता को लेकर किए गए फैसलों को सराहा। बोम्मई ने कहा कि निश्चित रूप से मोदी की तुलना नेहरू से नहीं की जा सकती। चीन के हमले के दौरान नेहरू ने उचित फैसले नहीं लिए और भारत की जमीन को उन्हें दे दिया।

मोदी ने देश को मजबूत बनाया, नेहरू से तुलना नहीं : बोम्मई
मोदी ने देश को मजबूत बनाया, नेहरू से तुलना नहीं : बोम्मई

वहीं प्रधानमंत्री मोदी ने चीनी हमले के खिलाफ कड़े कदम उठाए और देश को बचा लिया। पाकिस्तान के साथ कोई समझौता नहीं किया। उन्होंने भारत की एकता के लिए काम किया है।

नेहरू की पुण्यतिथि पर 27 मई को आयोजित एक कार्यक्रम में सिद्धरामय्या ने कहा था कि मोदी और नेहरु की तुलना नहीं की जा सकती और यह नहीं किया जाना चाहिए। कहां नेहरु, कहां मोदी। यह जमीन और आसमान की तुलना करने जैसा है।'

सिद्धू बताएं, वे आर्य हैं या द्रविड़
नेता प्रतिपक्ष सिद्धरामय्या ने आरएसएस पर निशाना साधा तो अब मुख्यमंत्री बोम्मई ने जवाबी हमला बोला है। बोम्मई ने कहा सिद्धरामय्या को यह स्पष्ट करना चाहिए कि वे कहां से आए हैं?

बोम्मई ने कहा कि सिद्धरामय्या को बताना चाहिए कि वे आर्य हैं या द्रविड़? कांग्रेस नेता ने आरएसएस पर हमला बोला था। इसके जवाब में सीएम ने पलटवार किया है। बोम्मई ने कह कि सिद्धरामय्या को बताना चाहिए कि वे कहां से आए और द्रविड़ हैं या आर्य?

सिद्धरामय्या ने शुक्रवार को पूछा था, क्या आरएसएस के लोग भारत के मूल निवासी हैं? क्या आर्य इस देश के मूल निवासी हैं? यह द्रविड़ हैं जो मूल रूप से इस देश के हैं। मुगलों के 600 साल के शासन के लिए कौन जिम्मेदार है? यदि भारतीय एकजुट रहते तो क्या उनके लिए हम पर शासन करना संभव था?

सिद्धरामय्या ने ये भी कहा कि हिजाब पर विवाद करने की जरूरत नहीं है। कोर्ट ने अपना फैसला सुनाया था। सभी को कोर्ट के आदेश का पालन करना चाहिए, 99.9 फीसदी छात्र कोर्ट के आदेश का पालन कर रहे हैं।

सिद्धू ने फिर साधा निशाना
उधर, विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष सिद्धरामय्या ने आरएसएस के खिलाफ अपने हमले को जारी रखते हुए शनिवार को फिर तीखे बाण छोड़े।

उन्होंने शनिवार को तुमकूर में कुरुबा समाज के सम्मेलन में भाग लेने के बाद कहा कि उन्होंने आरएसएस के मूल का मुद्दा उठाया था। तो अब पूरे भाजपा नेता उनके पीछे पड़ गए हैं क्योंकि सच्चाई उन्हें हजम नहीं हो पा रही।

उन्होंने कहा कि आरएसएस नेता केवल भाजपा नामक राजनीतिक दल का समर्थन कर रहे हैं। उन्होंने सवाल किया कि क्या केवल भाजपा के मंत्री और नेता ही हिंदू हैं? आरएसएस ने किस आधार पर ऐसा सोच लिया?

उन्होंने पूछा कि आरएसएस की नजर में हिंदू होने के क्या नियम हैं? हिंदू धर्म की क्या व्याख्या है। क्या केवल हिन्दू माता-पिता की संतान होना ही काफी है या भाजपा का सदस्य बनना होगा?

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Himachal Pradesh: जबरदस्ती धर्म परिवर्तन करवाने पर होगी 10 साल की जेल, लगेगा भारी जुर्मानाDGCA ने एयरपोर्ट पर पक्षियों के हमले को रोकने के लिए जारी किया दिशा-निर्देश'हर घर तिरंगा' अभियान में शामिल हुई PM नरेंद्र मोदी की मां हीराबेन, बच्‍चों के संग फहराया राष्‍ट्रीय ध्‍वज7,500 स्टूडेंट्स ने मिलकर बनाया सबसे बड़ा ह्यूमन फ्लैग, गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज हुआ नामबिहारः सत्ता गंवाते ही NDA के 3 सांसद पाला बदलने को तैयार, महागठबंधन में शामिल होने की चल रही चर्चा'फ्री रेवड़ी ' कल्चर व स्कूल के मुद्दे पर संबित्र पात्रा ने AAP को घेरा, कहा- 701 स्कूलों में प्रिंसिपल नहीं, 745 स्कूलों में नहीं पढ़ाया जाता विज्ञानPM मोदी ने कॉमनवेल्थ गेम्स में हिस्सा लेने वाले दल से मुलाकात की, कहा- विजेताओं से मिलकर हो रहा गर्वप्रियंका के बाद अब सोनिया गांधी भी दोबारा हुईं कोरोना पॉजिटिव, तेजस्वी यादव ने कल ही की थी मुलाकात
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.