क्या तेल की कीमतें बढ़ाना ही मोदी के अच्छे दिन : जमीर अहमद

क्या तेल की कीमतें बढ़ाना ही मोदी के अच्छे दिन : जमीर अहमद

Shankar Sharma | Publish: Sep, 07 2018 10:22:43 PM (IST) Bangalore, Karnataka, India

पेट्रोल, डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी को लेकर खाद्य व नागरिक आपूर्ति मंत्री जमीर अहमद खान ने केंद्र सरकार पर निशाना साधा है।

बेंगलूरु. पेट्रोल, डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी को लेकर खाद्य व नागरिक आपूर्ति मंत्री जमीर अहमद खान ने केंद्र सरकार पर निशाना साधा है। पेट्रोलियम पदार्थों की कीमतों में दिनोदिन बढ़ोतरी के बावजूद केन्द्र सरकार मौन है। क्या ये ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा कहे गए अच्छे दिन हैं?


उन्होंने बुधवार को हुब्बली हवाई अड्डे पर संवाददाताओं से कहा कि पेट्रोल व डीजल की निरंतर बढ़ती कीमतें आम जनता पर प्रहार हैं। प्रधानमंत्री बार-बार मन की बात की रट लगाते रहते हैं लेकिन हमें मन की बात नहीं बल्कि काम की बात चाहिए। केन्द्र सरकार के लापरवाहीपूर्ण प्रशासन को जनता खूब समझ रही है और वह इसका कड़ा जवाब देगी।

उन्होंने कहा कि भाजपा के नेता गठबंधन सरकार के गिरने की बात करते रहते हैं, लेकिन यह सरकार नहीं गिरेगी बल्कि पांच साल का कार्यकाल पूरा करके रहेगी।

16 बार बढ़ी तेल की कीमतें : परमेश्वर
बेंगलूरु. उपमुख्यमंत्री जी. परमेश्वर ने देश में पेट्रोल व डीजल की कीमतों में निरंतर बढ़ोतरी की निंदा करते हुए दावा किया कि नरेन्द्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद तेल की कीमतों में 16वीं बार बढ़ोतरी हुई है। यह भाजपा नीत केंद्र सरकार विफलता का आईना है।


परमेश्वर ने बुधवार को तुमकूरु के गंगाधरय्या स्मारक भवन में आयोजित शिक्षक दिवस समारोह में भाग लेने से पहले संवाददाताओं से कहा कि तेल उत्पादक देशों में पेट्रोल के दाम बहुत ही कम हैं, लिहाजा भारत में भी तेल की कीमतेंं कम होनी चाहिए लेकिन केन्द्र सरकार दाम घटाने का तो नाम ही नहीं ले रही है।

उन्होंने कहा कि पेट्रेल व डीजल के दाम नहीं घटाने के केन्द्र सरकार के रवैये से आम जनता के जेब पर कैंची चल रही है और बढ़ती महंगाई के कारण जनता की कमर ही टूट गई है। तेल के दाम बढ़ते जाने के कारण राज्य सडक़ परिवहन निगम की बसों का किराया भी बढऩे जा रहा है।


एक सवाल पर उन्होंने कहा कि पेट्रोल व डीजल की कीमतें घटाना केंद्र सरकार के हाथ में है, राज्य सरकार पेट्रोलियम उत्पादों पर उपकर की मात्रा नहीं घटाएगी। पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या की जांच को लेकर पूछे सवाल पर उन्होंने कहा कि मामले की जांच अंतिम चरण में है। जांच दल द्वारा जुटाए गए सबूतों के आधार पर इस प्रकरण को हल किया गया है।

Ad Block is Banned