छह ट्रेनों से विद्यार्थियों, श्रमिकों सहित रवाना हुए सात हजार से अधिक यात्री

लम्बी दूरी की ट्रेन में आईआरसीटीसी करेगा भोजन व्यवस्था

By: Santosh kumar Pandey

Published: 10 May 2020, 09:04 PM IST

बेंगलूरु. दक्षिण पश्चिम रेलवे प्रशासन ने राज्य सरकार के सहयोग से रविवार को विभिन्न राज्यों के लिए छह ट्रेनों का संचालन किया। इन ट्रेनों में करीब सात हजार यात्री गए हैं।

रेलवे की विज्ञप्ति के अनुसार रविवार को सुबह पहली श्रमिक स्पेशल रेलगाड़ी दोपहर 12.30 बजे बेंगलूरु के चिक्कबाणावार स्टेशन से जम्मू के उधमपुर के लिए रवाना हुई। इसमें 985 यात्री गए हैं। इसमें सर्वाधिक विद्यार्थी हैं।

इसके अलावा जहां भी ट्रेन स्टॉफ बदलने के लिए रोकी जाएगी, वहां के आईआरसीटीसी की ओर से यात्रियों को भोजन के पैकेट दिए जाएंगे। चिक्कबाणावार व मालूर स्टेशन तक यात्रियों को बीएमटीसी की बस से पहुंचाया गया। देर शाम को छठी ट्रेन त्रिपुरा की राजधानी अगरतल्ला के लिए रवाना हुई। इसमें भी 1200 यात्री गए हैं।

सोमवार को भी रेलवे छह ट्रेनों का संचालन कर सकता है। इसके लिए कर्नाटक सरकार से जानकारी मिलना शेष है। वहीं कर्नाटक के लोग जो अन्य राज्यों में फंसे हैं। उनको लाने के लिए कर्नाटक सरकार भी प्रयास कर रही है। इसके लिए अन्य राज्यों से निरंतर सम्पर्क जारी है।

छह ट्रेनों से विद्यार्थियों, श्रमिकों सहित रवाना हुए सात हजार से अधिक यात्री

दूसरी श्रमिक स्पेशल रेलगाड़ी बेंगलूरु के मालूर स्टेशन से दोपहर 2.10 बजे पश्चिम बंगाल के बांकुरा स्टेशन के लिए रवाना हुई। इस ट्रेन में 1200 वयस्क यात्री व 47 बच्चे भी गए हैं। तीसरी ट्रेन चिक्कबाणावार स्टेशन से मध्यप्रदेश के ग्वालियर के लिए शाम 4.05 बजे रवाना हुई। इस ट्रेन में 1068 यात्री अपने घरों को रवाना हुए।

चौथी ट्रेन शाम 4.55 बजे मालूर स्टेशन से बिहार के दानापुर के लिए रवाना हुई। इसमें श्रमिक गए हैं। पांचवी ट्रेन शाम 5.55 बजे चिक्कबाणावार से उत्तरप्रदेश के गोरखपुर के लिए रवाना हुई। इस ट्रेन में 1200 यात्री गए हैं। सभी यात्रियों को खाना, दो बोतल पानी, छाछ व दो बिस्किट के पैकेट दिए गए हैं।

Santosh kumar Pandey Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned