मुम्बई की जेडीएस खारगर चैम्पियन

मुम्बई की जेडीएस खारगर चैम्पियन

Sanjay Kumar Kareer | Updated: 29 Nov 2018, 09:33:12 PM (IST) Bangalore, Bangalore, Karnataka, India

सिरवी समाज की अखिल भारतीय वॉलीबाल प्रतियोगिता

बेंगलूरु की आईजी स्पोट्र्स 'ए' उपविजेता
देशभर से 48 टीमों ने हिस्सा लिया

बेंगलूरु. सिरवी समाज ट्रस्ट केंगेरी की ओर से आयोजित अखिल भारतीय सिरवी समाज वॉलीबाल प्रतियोगिता मुंबई की जेडीएस खारगर टीम ने जीती। चन्द्रा लेआउट स्थित सिद्धगंगा स्कूल के मैदान में आयोजित इस दो दिवसीय प्रतियोगिता के फाइनल में जेडीएस खारगर मुंबई ने बेंगलूरु के आईजी स्पोट्र्स क्लब 'ए' को हराकर खिताब पर कब्जा किया। चिकपेट बेंगलूरु तीसरे और केंगेरी बेंगलूरु बी चौथे स्थान पर रही। समापन समारोह में मुख्य अतिथि समाज सेवी महेन्द्र मुणोत, सिरवी समाज ट्रस्ट केंगेरी के अध्यक्ष मंगलाराम हाम्बड़, सचिव ढगलाराम लचेटा और आयोजन समिति के पदाधिकारियों ने विजेता जेडीएस खारगर, उपविजेता आईजी स्पोट्र्स क्लब 'ए' को ट्राफी, समृति चिह्न और अन्य पुरस्कार प्रदान किए। साथ ही मैन ऑफ द टूर्नामेंट खारगर के प्रकाश गहलोत, मैन ऑफ द फाइनल बेंगलूरु 'ए' के लिखमाराम सेपटा, बेस्ट साइड अटेकर खारगर के विनोद सिरवी, बेस्ट सेंटर बेगलूरु 'बी' के ढगलाराम लचेटा, उभरते खिलाड़ी के रूप में तिरुपति के जयराम सिरवी के साथ ही श्रेष्ठ अनुशासित टीम के रूप में जेरमटला हैदराबाद को भी पुरस्कृत किया गया।
मुख्य अतिथि मुणोत ने कहा कि समाज के सकारात्मक विकास के लिए मैत्री, सद्भाव और साहचर्य जरूरी है। समाज में इस तरह की भावना के प्रचार प्रसार के लिए खेल सर्वोत्तम माध्यम है। खेलों से सकारात्मक प्रतिस्पद्र्धा के साथ भावनात्मक जुड़ाव और लगाव पैदा होता है। प्रतियोगिता आयोजन समिति के अब्बाराम शानपुरा ने बताया कि दो दिवसीय प्रतियोगिता में बेंगलूरु, मैसूर, चेन्नई, पुणे, मुंबई, तिरुपति, हैदराबाद, सूरत, कर्नाटक, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, गुजरात सहित देशभर से कुल 48 टीमों ने हिस्सा लिया।
महाराष्ट्र से सर्वाधिक 25 टीमों ने भागीदारी की। कर्नाटक से 16 टीमों ने हिस्सा लिया। आयोजन समिति में ढगलाराम लचेटा के अलावा नेमिचंद सेंणचा, अब्बाराम शानपुरा, भंवरलाल गहलोत, चुन्नीलाल सिरवी, पेमाराम बर्फा, लिखमाराम आदि ने बखूबी व्यवस्थाओं को संभाला। समारोह में प्रतियोगिता के सभी प्रायोजकों एवं सहयोगियों को सम्मानित किया गया। प्रतियोगिता के मैचों के दौरान समाज के बड़ी संख्या में दर्शक मौजूद थे।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned