मैसूरु : मादा तेंदुआ और दो शावकों के शव मिले

दो बच्‍चों सहित मादा तेंदुए का शव मिला, वन विभाग कर रहा तीनों की मौत की जांच

By: Sanjay Kumar Kareer

Published: 10 Sep 2019, 08:01 PM IST

बेंगलूरु. मैसूर के नंजनगुड़ के हल्लारे गांव के समीप एक मादा तेंदुआ और उसके दो शावकों के शव मिलने के बाद वन विभाग के अधिकारी मौत के कारणों का पता लगाने में जुट गए हैं।

चार साल की मादा तेंदुआ और उसके चार माह के नर और मादा शावकों की मौत कैसे हुई, यह एक रहस्य बना हुआ है। सूत्रों के अनुसार तेंदुओं के शरीर पर चोट के कोई निशान नहीं मिले और शव मिलने के स्थान पर संघर्ष के कोई संकेत भी नहीं हैं।

वन विभाग के अधिकारी यह पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं कि क्या तेंदुओं की मौत इंसानों से संघर्ष का परिणाम है? या उनकी मौत जहर के कारण हुई? शवों का पोस्ट मार्टम कराया गया है।

मौत के कारणों का खुलासा विस्तृत पोस्ट मार्टम रिपोर्ट से ही हो सकेगा और यह रिपोर्ट इस सप्ताहांत तक आने की उम्मीद की जा रही है।

तेंदुओं के शव सोमवार को दोपहर बाद देखे गए लेकिन बताया गया है कि तेंदुओं की मौत एक दिन पहले, यानी रविवार को कसिी वक्त हुई थी। फिलहाल वन विभाग के अधिकारियों ने तेंदुओं की असामान्य मौत का मामला दर्ज किया है।

मैसूर क्षेत्र के इस ग्रामीण इलाके में वन्य जीवों का विचरण आम बात है। यहां हाथी, जंगली भैंसे और हिरण तो अक्सर देखे जाते हैं लेकिन तेंदुए बहुत कम दिखाई देते हैं। जहरीले सांप भी इस इलाके में बहुतायत से पाए जाते हैं।

Sanjay Kumar Kareer Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned