मैसूरु नगर निगम : महापौर पद के लिए जोड़तोड़ शुरू

मैसूरु नगर निगम : महापौर पद के लिए जोड़तोड़ शुरू

Ram Naresh Gautam | Publish: Sep, 05 2018 04:45:10 PM (IST) Bengaluru, Karnataka, India

जेडीएस से प्रेमा शंकरेगौड़ा और कांग्रेस से एचएम शांताकुमारी प्रबल दावेदार

मैसूरु. मैसूरु नगर निगम (एमसीसी) के महापौर और उप महापौर का पद महिलाओं के लिए आरक्षित होने की घोषणा के बाद महिला पार्षदों के बीच होड़ शुरू हो गई है। महापौर का पद सामान्य वर्ग की महिला (जीडब्ल्यू) तथा उप महापौर का पद पिछड़े वर्ग-ए (बीसीए) के लिए आरक्षित किया गया है। राजनीतिक गलियारों में कयास लगाए जा रहे हैं कि एमसीसी में कांग्रेस और जनता दल-ध मिलकर परिषद का गठन करेंगे।

गठबंधन के समर्थन में प्रदेश कांगे्रस अध्यक्ष दिनेश गुंडूराव और जद-एस के राष्ट्रीय अध्यक्ष एचडी देवेगौड़ा स्पष्ट कर चुके हैं कि जहां किसी भी दल को स्पष्ट बहुमत नहीं है, वहां दोनों दल साथ आएंगे। एमसीसी में परिषद के गठन के लिए दोनों दल के नेताओं मेें कई दौर की बातचीत हो चुकी है। महापौर और उप मापौर की गद्दी पाने के लिए जबरदस्त लॉबिंग चल रही है।

दोनों ही दलों की महिला पार्षद अपने-अपने वरिष्ठ नेताओं से उक्त पद के लिए जोर आजमाइश कर रही हैं। महापौर पद के लिए एक दर्जन महिलाओं के नाम सामने आ रहे हैं। जद-एस की ओर से महापौर के लिए प्रेमा शंकरेगौड़ा, भाग्या सी मदेश, अश्विनी अनंत, सविता सुरेश, रेशमा बानो और तस्नीम के नाम चर्चा में हैं। कांगे्रस की ओर से एचएम शांताकुमारी, पुत्तनिंगम्मा, भुवनेश्वरी, शोभा और अजीरा कतार में हैं।

निकाय चुनाव में 18 सीटें जीतकर जद-एस महापौर पद पर नगर लगाए हैं। अगर महापौर का पद जद-एस के खाते में गया तो प्रेमा शंकरेगौड़ा को गद्दी मिलने की संभावना सबसे ज्यादा है। वह शहर में जद-एस की प्रमुख नेताओं में शामिल हैं और वार्ड 2 से चुनाव जीती हैं। उन्होंने वर्षों से पार्टी की सेवा की है, लेकिन पहली बार एमसीसी का चुनाव जीती हैं। वार्ड संख्या 37 से जीती अश्विनी अनंत और 26 से जीती तस्नीम ने दो बार चुनाव जीता है। राजनीतिक गलियारों में चर्चा है कि ये दोनों महापौर पद पाने के लिए पार्टी नेताओं पर दबाव बना रही हैं।

कांग्रेस ने 19 सीटें जीती हैं और महापौर पद अपने प्रत्याशी को दिए जाने का दावा कर रही है। अगर यह विकल्प कांग्रेस को मिला तो वार्ड 32 से जीतकर आई पूर्व उप महापौर एचएम शांताकुमारी को मौका मिल सकता है। कांगे्रस की यह महिला नेता महापौर पद की सबसे मजबूत दावेदार बनकर उभरी हैं। हालांकि, नए चेहरे के तौर पर वार्ड 54 से जीती पुत्तनिंगम्मा, 60 से भुवनेश्वरी, 61 से शोभा और वार्ड 34 से जीतकर आईं अजीरा सलमा भी महापौर पद की दौड़ में हैं।

Ad Block is Banned