नागराज पलटे, गठबंधन सरकार पर गंभीर संकट

नागराज पलटे, गठबंधन सरकार पर गंभीर संकट

Rajendra Shekhar Vyas | Updated: 14 Jul 2019, 10:11:56 PM (IST) Bangalore, Bangalore, Karnataka, India

  • इस्तीफा वापस लेने की बात करने वाले नागराज पहुंचे मुंबई
  • आज भाजपा कर सकती है बहुमत परीक्षण की मांग
  • बागियों को मनाने की कोशिशें जारी

बेंगलूरु. Vidhan Sabha में बहुमत परीक्षण का प्रस्ताव रख चुके Chief Minister HD Kumaraswamy रविवार को अगली रणनीति तय करने में व्यस्त रहे। अपने पिता HD Deve Gowda के साथ पद्मनाभनगर स्थित आवास पर लगभग तीन घंटे तक वर्तमान राजनीतिक संकट पर विचार विमर्श किया तो शीर्ष कांग्रेस नेताओं के साथ भी बैठकें की। हालांकि, तमाम प्रयासों के बावजूद सत्तारूढ़ Congress-JD-S coalition government को उस वक्त बड़ा झटका लगा जब इस्तीफा वापस लेने की उम्मीद जगाने वाले होसकोटे के विधायक एमटीबी नागराज भी मुंबई रवाना हो गए।
इससे पहले नागराज ने कहा था कि वे अपना इस्तीफा वापस लेंगे लेकिन तब जब चिकबल्लापुर के विधायक के.सुधाकर भी अपना इस्तीफा वापस लेंगे। एक तरफ कांग्रेस के नेता MTB Nagaraj को लेकर आशान्वित थे कि वे सुधाकर के साथ इस्तीफा वापस लेगें वहीं अचानक वे चार्टर्ड विमान से मुंबई रवाना हो गए। कथित तौर पर नागराज
State BJP president BS Yeddyurappa के करीबी संतोष के साथ मुंबई गए। वहीं, एचएएल हवाई अड्डे पर नागराज की रवानगी के समय प्रदेश भाजपा के वरिष्ठ नेता आर.अशोक भी नजर आए। मुंबई पहुंचने पर बागी नेताओं ने नागराज का जोरदार स्वागत किया।
बागी बोले, इस्तीफा वापस लेने का सवाल नहीं
उधर, मुंबई में ठहरे बागी विधायकों ने दोहराया कि वे एकजुट हैं और किसी के भी resignation वापस लेने का कोई सवाल नहीं है। यशवंतपुर के विधायक ST Somasekhar ने एमटीबी नागराज की मौजूदगी में संवाददाताओं से कहा कि मुंबई में 12 विधायक मौजूद हैं जबकि के.सुधाकर दिल्ली में है। उन्होंने कांग्रेस सदस्य के रूप में विधानसभा की सदस्यता से अपना इस्तीफा दिया है। कोई कुछ भी कहे कोई फर्क नहीं पड़ता। कोई भी पीछे हटने वाला नहीं है। एमटीबी नागराज नेे भी कहा कि वे इस्तीफा वापस नहीं लेंगे। सोमशेखर ने कहा कि होटल के अधिकारियों से आग्रह किया गया है कि कोई भी आए उनसे मिलने की अनुमति नहीं दी जाए।
दरअसल, सोमशेखर ने जिन 13 विधायकों की एकजुटता की बात कही उनके अलावा पांच विधायकों में से मंत्रीपद से इस्तीफा देने वाले दो निर्दलीय विधायक तथा Ramalinga Reddy, Roshan Beg और Anand Singh हैं। इन तमाम विधायकों में से अगर कांग्रेस-जद-एस गठबंधन को सबसे अधिक उम्मीद है तो वह रामलिंगा रेड्डी से है लेकिन उन्होंने भी स्पष्ट कहा है कि वे इस्तीफे पर कोई reaction नहीं देंगे।
सीएम इस्तीफा दें या आज ही हासिल करें विश्वासमत: BJP
उधर, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष बीएस येड्डियूरप्पा ने स्पष्ट कर दिया है कि वे सोमवार को बिजनेस एडवाइजरी कमिटी की बैठक में विश्वास मत को सदन की कार्यवाही में शामिल करने को कहेंगे। उन्होंने कहा कि राज्य में गठबंधन सरकार बहुमत खो चुकी है और मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी को तुरंत इस्तीफा दे देना चाहिए। उन्होंने कहा 'मैं मांग करता हूं कि अगर मुख्यमंत्री ईमानदार हैं और लोकतांत्रिक प्रणाली की परवाह करते हैं तो तुरंत इस्तीफा दें या सोमवार को विश्वास मत के लिए एक प्रस्ताव लाएं।'

उन्होंने कहा कि जद-एस और कांग्रेस के 16 विधायकों ने इस्तीफा दे दिया है और दो निर्दलीय विधायकों ने भी सरकार से समर्थन वापस लेकर भाजपा को अपना समर्थन दिया है। सूत्रों के अनुसार बिजनेस एडवाइजरी कमिटी की शुक्रवार को हुई बैठक में कुमारस्वामी ने बुधवार को विश्वास मत हासिल करने का प्रस्ताव दिया था। हालांकि, कोई निर्णय नहीं किया गया क्योंकि मुख्य विपक्षी पार्टी भाजपा ने बैठक में भाग नहीं लिया था।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned