नरेंद्र मोदी की असली सर्जिकल स्ट्राइक जनता के सामने उजागर हुई : कुमारस्वामी

मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने गुरुवार को मैसूरु में कहा कि आयकर छापों के माध्यम से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की असली सर्जिकल स्ट्राइक खुलकर सामने आ गई है।

By: शंकर शर्मा

Published: 29 Mar 2019, 01:55 AM IST

मैसूरु. मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने गुरुवार को मैसूरु में कहा कि आयकर छापों के माध्यम से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की असली सर्जिकल स्ट्राइक खुलकर सामने आ गई है। सीएम ने कहा कि केंद्रीय एजेंसियों के दुरुपयोग का सामना करने के लिए पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के तौर तरीकों का वे अनुकरण करेंगे। गठबंधन दलों के नेता, कार्यकर्ताओं के खिलाफ आयकर विभाग की कार्रवाई के संकेत पहले से मिल रहे थे।

उन्होंने आयकर विभाग द्वारा राज्य की पुलिस के बजाय सीआरपीएफ के जवानों की सेवाओं के इस्तेमाल पर भी सवाल खड़ा किया। सीएम ने कहा कि आयकर विभाग के अधिकारी मुख्यमंत्री निवास पर भी छापे डालने की कोशिश में थे, लेकिन इसके लिए न्यायालय की अनुमति चाहिए, लिहाजा उनकी मंशा पूरी नहीं हो पाई।

मुख्यमंत्री ने दावा किया कि चोरी छिपे उनकी संपत्ति का विवरण एकत्रित किया है। भाजपा नेताओं ने अवैध रूप से संपत्तियां जमा की हैं, लेकिन उन पर छापे क्यों नहीं पड़ रहे हैं? आयकर विभाग के अधिकारी भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के इशारों पर काम कर रहे हैं। भाजपा निष्पक्ष व शांतिपूर्ण चुनाव नहीं करवाना चाहती है, लेकिन इस तरह के हथकंडों से कोई फायदा
नहीं होगा।

आयकर छापे से जद-एस का फायदा : रेवण्णा
हासन. लोक निर्माण मंत्री एचडी रेवण्णा ने दावा किया है कि आयकर विभाग का छापा राजनीति से प्रेरित है। इससे जद-एस को लोकसभा चुनाव में फायदा ही होगा। उन्होंने कहा कि वे छापे के विरोध में नहीं हैं। आय कर की चोरी हुई है तो आयकर विभाग अपना काम करेगा। ऐसे छापों से डरने की जरूरत नहीं है। रेवण्णा ने आरोप लगाया कि आय कर के एक वरिष्ठ अधिकारी भाजपा के एजेंट की तरह काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि ठेकेदारों में एक रायगौड़ा पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धरामय्या का करीबी सहयोगी रहा है। जबकि अश्वथ उसका रिश्तेदार है। रेवण्णा ने कहा कि मंड्या लोकसभा क्षेत्र की निर्दलीय उम्मीदवार सुमालता प्रतिद्वंद्वी निखिल गौड़ा की बढ़ती लोकप्रियता को पचा नहीं पा रही हैं। हाल ही में सुमालता ने चुनाव आयोग से संपर्क किया था, जिसके बाद छापा पड़ा।

अधिकारियों ने कर्तव्य निभाया : सुमालता
बेंगलूरु. मंड्या से निर्दलीय प्रत्याशी सुमालता ने कहा कि आयकर विभाग के अधिकारियों ने अपने कर्तव्य को अंजाम दिया है। इसको राजनीतिक बदले की भावना का नाम नहीं देना चाहिए। गुरुवार को सुमालता ने कहा कि लघु सिंचाई मंत्री सीएस पुट्टराजू ने इस कार्रवाई के लिए उन्हें जिम्मेदार बताया है, ऐसे आरोप लगाने से पहले सौ बार सोचना चाहिए था। कोई भी पुट्टराजू की बातों पर विश्वास नहीं करेगा।

उन्हेंं पहले से ही संदेह था कि इस क्षेत्र में सरकारी मशीनरी का गलत इस्तेमाल हो रहा है। लोगों को धन का लालच दिया जा रहा था। मतदान होने तक आयकर विभाग और चुनाव अधिकारियों को नजर रखने की जरूरत है। जिलाधिकारी से सरकारी मशीनरी के दुरुपयोग की शिकायत की गई है, जिस पर कोई कार्रवाई नहीं किए जाने को लेकर चुनाव आयोग से भी शिकायत की गई है।

शंकर शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned