सिद्धू के बयानों को गंभीरता से लेने की जरूरत नहीं: सिम्हा

सिद्धू के बयानों को गंभीरता से लेने की जरूरत नहीं: सिम्हा

Sanjay Kumar Kareer | Publish: Mar, 29 2018 06:22:21 PM (IST) Bengaluru, Karnataka, India

जद (ध) को भाजपा की 'बी' टीम बताने पर जताई आपत्ति

बेंगलूरु. भारतीय जनता युवा मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष व सांसद प्रताप सिम्हा ने जनता दल (ध) को भाजपा की 'बी' टीम बताने के मुख्यमंत्री सिद्धरामय्या के बयान पर कहा कि बीबीएमपी में सत्ता पाने के लिए जद (ध) के साथ गठजोड़ किसने कर रखा है। राज्य की जनता सब कुछ समझती है। जनता यह भी जानती है कि गुंडलपेट व नंजनगुड़ विधानसभा सीटों के उपचुनाव में भी किसके साथ, किसने गठबंधन किया था। ऐसे में सिद्धरामय्या के बयानों को गंभीरता से लेने की कोई जरूरत नहीं है।सिम्हा ने बुधवार को पार्टी के प्रदेश मुख्यालय में संवाददाता सम्मेलन में कहा कि गुरुवार से लेकर 5 अप्रेल तक युवा जागृति अभियान राज्य भर में चलाया जाएगा। अगले आठ दिनों तक प्रदेश के प्रत्येक बूथ स्तर पर बाइक रैली निकाली जाएगी।

उन्होंने कहा कि केएफडी व पीएफआई के खिलाफ दायर मुकदमे वापस लेने के बारे में यह अभियान चलाया जाएगा और इस दौरान हरेक गांव में इस बारे में लोगों को समझाया जाएगा। एक सवाल पर सिम्हा ने कहा कि युवा मोर्चा की तरफ से किसी को टिकट देने की मांग नहीं की गई है। हमें यकीन है कि हमारे नेता सक्षम उम्मीदवारों का ही चयन करेंगे। 2019 के लोकसभा चुनाव में मैसूरु-कोडगू सीट से मैसूरु के पूर्व राजघराने की महारानी प्रमोदा देवी को टिकट देने के सवाल पर नाराजगी जताते हुए सिम्हा ने कहा कि एक सांसद के तौर पर उनके कार्यों को प्रधानमंत्री तक से सराहना मिली है।
एक सवाल पर उन्होंने कहा कि भाजपा में नेता पुत्रों को टिकट देने की संस्कृति नहीं है। बीएस येड्डियूरप्पा, केएस ईश्वरप्पा, रामचन्द्र गौड़ा के पुत्रों को टिकट देना है या नहीं, इसका निर्णय वरिष्ठ नेता करेंगे। राष्ट्रीय अध्यक्ष द्वारा करवाए गए सर्वे के आधार पर टिकट आवंटित किए जाएंगे। इस बात को येड्डियूरप्पा पहले ही स्पष्ट कर चुके हैं।

शाह का दो दिवसीय दौरा 30 से, पुराने मैसूरु क्षेत्र में करेंगे सभाएं
बेंगलूरु. भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह दो दिन के विश्राम के बाद फिर से राज्य के दो दिवसीय दौरे पर आएंगे। मंगलवार को ही दो दिन के दौरे से लौटे शाह 30 और 31 को प्रदेश के अलग-अलग क्षेत्रों का दौरा करेंगे। इस बार शाह पुराने मैसूरु क्षेत्र का दौरान करेंगे। शाह मंगलवार को ही दो दिवसीय दौरे से लौटे थे। पार्टी सूत्रों के अनुसार शाह गुरुवार की रात शहर में पहुंचेंगे और अगले दिन मैसूरु के सुत्तूर मठ प्रमख शिवरात्रि देशीकेन्द्र स्वामी से आशीर्वाद लेने के बाद दौरे का आगाज करेंगे। मैसूरु प्रवास के दौरान शाह का पूर्व मैसूरु राजघराने के यदुवीर वाडियार से भी मिलने का कार्यक्रम है। इस बीच, शाह से प्रस्तावित भेंट के बारे में पूछे जाने पर यदुवीर ने कहा कि उन्हें यह जानकारी मीडिया से ही मिली है। अभी राजनीति में आने का उनका कोई इरादा नहीं है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned