कोरोना वायरस के प्रति सावधान रहने की जरूरत : डॉ. सुधाकर

- केरल और महाराष्ट्र मेंं बढ़े मामले

By: Nikhil Kumar

Published: 21 Feb 2021, 06:53 PM IST

चिकबल्लापुर. स्वास्थ्य व चिकित्सा शिक्षा मंत्री डॉ. के. सुधाकर ने कहा कि केरल और महाराष्ट्र मेंं कोविड मरीजों की संख्या में वृद्धि के मद्देनजर राज्य में सावधानी बरतने की जरूरत है। जनता को कोविड सुरक्षा उपायों का पालन करना चाहिए। लोगों को चाहिए कि कोविड वैक्सीन को गंभीरता से लें।

चिकबल्लापुर में शुक्रवार को समाज कल्याण विभाग के छात्रावास का उद्घाटन करने के बाद उन्होंने कहा कि केरल और महाराष्ट्र सीमा पर निगरानी बढ़ाने के निर्देश दिए गए हैं। अन्य एहतियाती उपायों पर वे जल्द ही संबंधित अधिकारियों के साथ बैठक कर दिशा-निर्देश जारी करेंगे। डॉ. सुधाकर ने कहा कि कोरोना वायरस की दूसरी लहर की संभावनाओं से इनकार नहीं किया जा सकता।

लोग कोविड के प्रति लापरवाह हो रहे हैं। गलतफहमी में हैं कि महामारी समाप्त हो गई है। मास्क और सामाजिक दूरी आदि नियमों का सख्ती से पालन नहीं किया गया तो वायरस तेजी से सिर उठा सकता है। उन्होंने गृह मंत्री सहित सभी जिलाधिकारियों को पत्र लिख ऐहतियाती कदम उठाने पर जोर दिया है। शनिवार को उनकी सभी के साथ ऑनलाइन बैठक होगी।

जाति के आधार पर संरक्षण की मांग पर टिप्पणी करते हुए मंत्री ने कहा कि कानूनी ढांचे, संवैधानिक आकांक्षाओं और मांगों को ध्यान में रखते हुए सरकार संभावनाएं तलाशेगी।

मंत्री ने सरकारी कर्मचारी खेल प्रतियोगिता का भी उद्घाटन किया। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के कारण उत्पन्न आर्थिक संकट के बावजूद प्रदेश सरकार ने किसी भी कर्मचारी के वेतन में कटौती नहीं की। किसी को भी पदोन्नति से वंचित किया। सरकारी कर्मचारियों ने भी सरकार एकजुट होकर काम किया। जिससे कोरोना महामारी से निपटना संभव हो सका। विभिन्न खेलों को बढ़ावा देने के लिए जिले में गेम्स विलेज स्थापित करने की योजना है।

Nikhil Kumar Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned