उच्च जोखिम वाले राज्यों से आने वालों के लिए अनिवार्य हो आरटी-पीसीआर जांच : टीएसी

  • केरल से कर्नाटक आने वालों के लिए कुछ दिन पहले ही आरटी-पीसीआर जांच की निगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य की गई है।

By: Nikhil Kumar

Published: 21 Feb 2021, 07:16 PM IST

बेंगलूरु. कोविड-19 तकनीकी सलाहकार समिति (टीएसी) ने कोविड के उच्च जोखिम वाले राज्यों से कर्नाटक पहुंचने वाले सभी लोगों के लिए आरटी-पीसीआर जांच की निगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य करने के साथ एक सप्ताह के लिए होम क्वारंटाइन की सिफारिश की है। भोजन डिलीवरी और कैटरिंग व्यावसाय से जुड़े लोगों के लिए हर 15 दिन पर आरटी-पीसीआर जांच अनिवार्य करने की बात कही है। हालांकि, इस पर निर्णय होना बाकी है।

टीएसी के सदस्य डॉ. सी. एन. मंजुनाथ ने कहा कि केरल से कर्नाटक आने वालों के लिए कुछ दिन पहले ही आरटी-पीसीआर जांच की निगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य की गई है। रिसॉर्ट, होम स्टे और होटल आदि में कमरा लेने के लिए भी निगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य है। रिपोर्ट 72 घंटे से ज्यादा पुरानी नहीं होनी चाहिए। बीते दो सप्ताह के दौरान केरल से जो लोग कर्नाटक पहुंचे हैं उनके लिए भी आरटी-पीसीआर जांच जरूरी है। महाराष्ट्र में भी कोरोना वायरस ने सिर उठाना शुरू कर दिया है इसलिए केरल को लेकर जारी आदेश महाराष्ट्र के लिए भी मान्य होने चाहिए।

डॉ. मंजुनाथ ने कहा कि कई विवाह और सामाजिक समारोह चल रहे हैं। कैटरर्स एक-स्थान से दूसरे स्थान पर जाते हैं। वे ज्यादातर बेसमेंट में काम करते हैं जहां वेंटिलेशन कम होता है। एक के संक्रमित होने पर वायरस का प्रसार बड़ी तेजी से होता है।

टीएसी के अध्यक्ष डॉ. एम. के. सुदर्शन ने कहा कि कोविड नियंत्रण और निगरानी संबंधित मुद्दों पर अगनी बैठक में चर्चा होगी।
स्वास्थ्य आयुक्त डॉ. त्रिलोक चंद्र ने बताया कि शनिवार या रविवार को बैठक होनी है। सभी मुद्दों पर विस्तृत चर्चा के बाद सर्वसम्मति से निर्णय लेंगे।

Nikhil Kumar Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned