एआइसी-डीएसयू फाउंडेशन को नीति आयोग की मंजूरी

  • डीएसयू (Dayananda Sagar University के गवर्निंग काउंसिल के सदस्य रोहन प्रेम सागर (Rohan Prem Sagar) ने कहा कि उद्देश्य है छात्रों और शोधकर्ताओं के बीच नवाचार और उद्यमशीलता की भावना को बढ़ावा देना।

By: Nikhil Kumar

Updated: 22 Feb 2021, 09:15 AM IST

बेंगलूरु. नीति आयोग (NITI Aayog) ने 10 करोड़ रुपए के अनुदान के साथ अटल ऊष्मायन केंद्र-दयानंद सागर यूनिवर्सिटी (एआइसी-डीएसयू) फाउंडेशन (AIC-DSU Foundation) के स्थापना की मंजूरी दे दी है। डीएसयू में फाउंडेशन स्थापित होगी।

डीएसयू (Dayananda Sagar University) के गवर्निंग काउंसिल के सदस्य रोहन प्रेम सागर (Rohan Prem Sagar) ने कहा कि उद्देश्य है छात्रों और शोधकर्ताओं के बीच नवाचार और उद्यमशीलता की भावना को बढ़ावा देना।

इनोवेशन कैंपस (Innovation Campus) की प्रयोगशालाएं, इकोसिस्टम और एआइसी-डीएसयू फाउंडेशन सभी छात्रों, इनोवेटर्स, समुदाय और कामकाजी पेशेवरों के लिए खुली हैं।

इस अनूठी सुविधा की संयुक्त शक्ति आज 300 उद्यमों और स्टार्टअप्स को जन्म दे सकती है जो भारत के निर्माण हब में परिवर्तन सहित ज्ञान अर्थव्यवस्था को गति दे सकता है।

विज्ञान और इंजीनियरिंग (science and engineering) में मास्टर डिग्री रखने वाले युवा जो डॉक्टोरल प्रोग्राम पर काम करना चाहते हैं वे अनुसंधान और वैज्ञानिक अधिकारी (research and scientific officer) के लिए आवेदन कर सकते हैं। योग्य छात्रा छात्रवृत्ति के लिए भी आवेदन कर सकते हैं।

Nikhil Kumar Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned