नालों पर अतिक्रमण के खिलाफ अभी कार्रवाई नहीं : सीएम

नालों पर अतिक्रमण के खिलाफ अभी कार्रवाई नहीं : सीएम

Rajendra Shekhar Vyas | Updated: 26 Sep 2018, 10:54:59 PM (IST) Bengaluru, Karnataka, India

करेंगे राजस्व विभाग की सर्वे रिपोर्ट का इंतजार

अतिक्रमण के चलते ही निचली बस्तियों में जा रहा है बरसाती नालों का पानी
बेंगलूरु. मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने कहा कि बरसाती नालों पर हुए अतिक्रमण को हटाने के लिए फिलहाल कोई कार्रवाई नहीं की जाएगी। उनकी सरकार इस पर राजस्व विभाग के सर्वे रिपोर्ट का इंतजार करेगी। सर्वे रिपोर्ट आने के बाद ही अतिक्रमण हटाए जाने पर कोई निर्णय किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्हें पता है कि बरसाती नालों पर अतिक्रमण किया गया है और अतिक्रमण के चलते ही बरसाती नालों का पानी निचली बस्तियों में जा रहा है जहां बाढ़ जैसी स्थिति पैदा हुई है। लेकिन, अगर अतिक्रमण के खिलाफ कार्रवाई अभी शुरू की जाती है तो कई बेघर हो जाएंगे। इसलिए इसपर मानवीय दृष्टिकोण से सोचने की जरूरत है। इसपर उनकी सरकार जरूर निर्णय करेगी, लेकिन फिलहाल अतिक्रमण हटाने का अभियान अभी नहीं चलाया जाएगा। उन्होंने बीबीएमपी अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि युद्ध स्तर पर काम करें ताकि लोगों के घरों में बरसात का पानी नहीं घुसे। उन्होंने मुख्य सचिव को भी निर्देश दिया है कि संबंधित अधिकारियों से बातचीत करें और जहां बाढ़ जैसी स्थिति है वहां तुरंत राहत पहुंचाएं।
जारी रहेगा अभी बारिश का सिलसिला
राज्य प्राकृतिक आपदा निगरानी केंद्र ने मंगलवार सुबह 5.30 बजे तक 70 मिमी बारिश दर्ज करने की सूचना दी। मौसम विभाग के अनुसार दक्षिण-पश्चिम मानसून की सक्रियता के कारण पूरे सप्ताह बारिश होने का अनुमान है। दक्षिण अंदरूनी कर्नाटक इससे काफी प्रभावित रहेगा। बेंगलूरु के अलावा रामनगर, तुमकूरु और चामराजनगर में भी मूसलाधार बारिश का दौर जारी है।

 


नागरहोले राष्ट्रीय उद्यान में बाघिन का झुलसा हुआ शव बरामद
अवैध शिकार की आशंका
मैसूरु. नागरहोले राष्ट्रीय उद्यान के चिक्कहल्ली वनक्षेत्र में 6 वर्षीय बाघिन का झुलसा हुआ शव बरामद हुआ है। वनविभाग के अधिकारियों के मुताबिक बिजली के तारों के संपर्क में आने से बाघिन की मौत की आशंका है। बाघिन के शव के आस-पास ट्रैक्टर के पहिए के निशान मिले हंै, जिससे संभावना है कि किसी ने इस शव को यहां लाकर फेंका है। बाघिन की मौत स्वाभाविक नहीं है। पोस्टमार्टम की रिपोर्ट के बाद ही वजह स्पष्ट होगी।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned