किसी संगठन पर प्रतिबंध का प्रस्ताव नहीं: रेड्डी

Shankar Sharma

Publish: Jan, 13 2018 10:15:57 PM (IST)

Bangalore, Karnataka, India
किसी संगठन पर प्रतिबंध का प्रस्ताव नहीं: रेड्डी

गृहमंत्री रामलिंगा रेड्डी ने स्पष्ट किया कि भाजपा की मांग के मुताबिक राज्य में पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएपआई) सहित किसी भी संगठन पर प्रतिबंध

बेंगलूरु. गृहमंत्री रामलिंगा रेड्डी ने स्पष्ट किया कि भाजपा की मांग के मुताबिक राज्य में पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएपआई) सहित किसी भी संगठन पर प्रतिबंध लगाने का सरकार का कोई इरादा नहीं है। रेड्डी ने शुक्रवार को मेंगलूरु में पुलिस क्वार्टर्स के निर्माण की आधारशिला रखते हुए कहा कि तटीय क्षेत्र में दक्षिणपंथी संगठनों, पीएफआई तथा एसडीपीआई जैसे संगठनों के समाज में धार्मिक सौहार्द बिगाडऩे की कोशिश करने के बावजूद पुलिस के कानून व व्यवस्था बनाए रखने के प्रयास सराहनीय हैं।

उन्होंने कहा कि दीपक राव व बशीर की हत्या में लिप्त तमाम आरोपियों व हिंसा भडक़ाने वालों को गिरफ्तार कर उनके खिलाफ आरोप पत्र दायर किए जा चुके हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश के दक्षिण कन्नड़ जिले को छोडक़र शेष 29 जिलों में निरंतर शांति बनी हुई है पर दक्षिण कन्नड़ जिले में सांप्रदायिक तनाव है। उन्होंने कहा कि कुछ राजनीतिक दलों के नेता राजनीतिक लाभ के लिए जिले में शांति नहीं चाहते। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार पुलिसकर्मियों को आवासीय सुविधाएं उपलब्ध करवाने पर विशेेष बल दे रही है। राज्य में कुल 2250 करोड़ रुपए की लागत से 11 हजार मकानों के निर्माण का कार्य चल रहा है।

उन्होंने कहा कि 2500 मकानों में पहले ही पुलिसकर्मियों को बसाया जा चुका है। 4,500 मकानों का निर्माण अंतिम चरण में है जबकि 4 हजार मकानों का निर्माण 2018 में पूरा कर लिया जाएगा। पुलिस विभाग में स्टाफ की कमी के बारे में रेड्डी ने कहा कि अब तक 1,642 सब इंस्पेक्टर तथा 28 हजार सिपाहियों की नियुक्तियां की जा चुकी हैं। करीब 12 हजार रिक्त पदों को भरना बाकी है और उम्मीदवारों की छंटनी का कार्य अंतिम चरण में है।

संवेदनशील क्षेत्रों में अधिक सतर्क रहें: गृहमंत्री
तटीय कर्नाटक क्षेत्र में कानून व्यवस्था की स्थिति की समीक्षा के मद्देनजर गृहमंत्री रामलिंगा रेड्डी ने शुक्रवार को मेंगलूरु के पुलिस आयुक्त कार्यालय में पश्चिमी रेंज के जिलों के पुलिस अधीक्षकों के अलावा मेंगलूरु नगर पुलिस अधिकारियों के साथ म हत्वपूर्ण बैठक की और रिपोर्ट प्राप्त की।


गृहमंत्री ने उत्तर कन्नड़, दक्षिण कन्नड़, उडुपी, चिकमगलूरु के जिला पुलिस अधीक्षक तथा मेंगलूरु के पुलिस आयुक्त के साथ हाल ही में हुई वारदातों के संबंध में चर्चा की महत्वपूर्ण जानकारी जुटाई। जानकारी के अनुसार बैठक के दौरान गृहमंत्री ने तटीय क्षेत्र में बिगड़ती कानून व्यवस्था की स्थिति पर चिंता जताई और धार्मिक सौहाद्र्र बनाए रखने, हालात को सामान्य बनाने के लिए पुलिस के एहतियाती कदमों, भविष्य में संभावित घटनाओं के बारे में सतर्कता बरतने के निर्देश दिए। बैठक में पुलिस अधिकारियों ने मेंगलूरु में हुई दीपक राव व बशीर की हत्या तथा मुडिगेरे में छात्रा धन्याश्री की आत्महत्या के प्रकरण के संबंध में गृहमंत्री को जानकारी दी। बैठक में गृहमंत्री ने आगामी विधानसभा चुनावों के मद्देनजर किसी भी प्रकार की अप्रिय घटनाएं नहीं होने देने के बारे में कड़ी नजर रखने के पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिए। उन्होंने धार्मिक रूप से संवेदनशील माने जाने वाले इलाकों में अधिक सुरक्षा प्रबंध के निर्देश दिए।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

1
Ad Block is Banned