बेंगलूरु से हटाए गए स्टाफ की दोबारा पोस्टिंग नहीं: रामलिंगा रेड्डी

बेंगलूरु से हटाए गए स्टाफ की दोबारा पोस्टिंग नहीं: रामलिंगा रेड्डी

Sanjay Kumar Kareer | Updated: 11 Feb 2018, 01:08:53 AM (IST) Bangalore, Karnataka, India

दूसरे जिलों और तहसीलों में काम कर रहे कर्मचारियों को भी बेंगलूरु में काम करने का अनुभव होना जरूरी है।

बेंगलूरु. गृह मंत्री रामङ्क्षलगा रेड्डी ने कहा कि पांच साल पहले बेंगलूरु से अन्य जगहों पर पदस्थ पुलिस कर्मचारियों की दोबारा यहां पोस्टिंग नहीं की जाएगी।

उन्होंने शनिवार को कहा कि तबादलों की सिफारिश लेकर आने वाले पुलिस कर्मियों निलंबित किया जाएगा। वे अपने काम में कोई हस्तक्षेप बर्दाश्त नहींं करेंगे। राज्य चुनाव आयोग विधानसभा चुनाव के मद्देनजर तीन साल से अधिक समय से पदस्थ पुलिस कर्मियों का तबादला करने के निर्देश देने वाला है। सरकार ने सभी जिलों में तीन साल से अधिक समय से पदस्थ पुलिस कर्मचारियों की सूची मंगवा ली है। आयोग से निर्देश मिलते ही तबादले होंगे।

उन्होंने कहा कि बेंगलूरु में गत दो दशक से कार्यरत उप निरीक्षकों, निरीक्षकों तथा हेड कांस्टेबल के तबादले किए गए थे।वे सभी फिर से बेंगलूरु आने का प्रयास कर रहे हैं लेकिन उन्हें इसका अवसर नहीं मिलेगा। कई पुलिसकर्मी जिलों के प्रभारी मंत्रियों से उन्हें कॉल करवा रहे हैं और कुछ सिफारिश पत्र भी मिले हैं लेकिन कड़ी चेतावनी के कारण कोई भी पुलिस कर्मी सामने नहीं आ रहा है।

उन्होंने कहा कि कई वरिष्ठ अधिकारियों ने उन्हें बेंगलूरु में आपराधिक गतिविधियों के नियंत्रण के लिए पांच साल पहले तबादला किए गए पुलिस वालों को वापस लाने का सुझाव दिया था लेकिन दूसरे जिलों और तहसीलों में काम कर रहे कर्मचारियों को भी बेंगलूरु में काम करने का अनुभव होना जरूरी है। उन्होंने कहा कि बेंगलूरु में पदस्थ कई पुलिस कर्मियों के संबंध नेताओं और समाजकंटकों से थे। उनकी निशानदेही करने के बाद ही तबादला किया गया था। वे चाहते है कि पुलिस के संबंध केवल नागरिकों से हों। समाज विरोधी लोगो से संबंध रखने पर पुलिस कमियों में सेवा की भावना नहीं रहती और भ्रष्टाचार को अधिक बढ़ावा मिलता है।

गृह मंत्री ने कहा कि बेंगलूरु के लिए पांच साल और अन्य शहरों में तीन साल का समय तय किया गया है। बेंगलूरु में युवा पुलिस कर्मचारियों की जरूरत है, जिन्होंने आधुनिक प्रशिक्षण प्राप्त किया है और गोली का निशाना लगाने में भी माहिर है। पुलिस कर्मचारियों की नियुक्ति में युवा उम्मीदवारों को ही पहली प्रमुखता दी जाएगी।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned