scriptपूर्व सीएम येडियूरप्पा के खिलाफ गैर-जमानती गिरफ्तारी वारंट जारी | Patrika News
बैंगलोर

पूर्व सीएम येडियूरप्पा के खिलाफ गैर-जमानती गिरफ्तारी वारंट जारी

सीआइडी ने येडियूरप्पा को 12 जून को पूछताछ के लिए उपस्थित होने के लिए समन जारी किया। येडियूरप्पा ने जवाब दिया कि वे नई दिल्ली में हैं और 17 जून को पूछताछ के लिए उपस्थित होंगे। इसके बाद सीआइडी ने बेंगलूरु के प्रथम फास्ट ट्रैक कोर्ट (पोक्सो) में येडियूरप्पा के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट की मांग करते हुए आवेदन दायर किया। अदालत ने गुरुवार शाम येडियूरप्पा के खिलाफ गैर-जमानती गिरफ्तारी वारंट जारी किया।

बैंगलोरJun 14, 2024 / 12:36 am

Sanjay Kumar Kareer

बेंगलूरु. शहर की एक विशेष अदालत ने गुरुवार को पोक्सो मामले में पूर्व मुख्यमंत्री और वरिष्ठ भाजपा नेता बी.एस. येडियूरप्पा के खिलाफ गैर-जमानती गिरफ्तारी वारंट जारी किया। येडियूरप्पा के खिलाफ 14 मार्च को एक नाबालिग लड़की के कथित यौन उत्पीड़न को लेकर यौन अपराधों से बच्चों का संरक्षण (पोक्सो) अधिनियम, 2012 के तहत मामला दर्ज किया गया था। वारंट जारी होने के बाद मामले की जांच कर रहा अपराध अनुसंधान विभाग (सीआइडी) जल्द ही उन्हें गिरफ्तार कर सकता है।
सीआइडी ने पहले ही येडियूरप्पा को तलब किया है और उन्हें मामले में पूछताछ के लिए पेश होने को कहा है। येडियूरप्पा अभी नई दिल्ली में हैं। पीडि़ता के भाई के इस मामले में येडियूरप्पा की गिरफ्तारी की मांग को लेकर कर्नाटक उच्च न्यायालय में रिट याचिका दायर करने के बाद सीआइडी ने येडियूरप्पा को 12 जून को पूछताछ के लिए उपस्थित होने के लिए समन जारी किया। येडियूरप्पा ने जवाब दिया कि वे नई दिल्ली में हैं और 17 जून को पूछताछ के लिए उपस्थित होंगे।
इसके बाद सीआइडी ने बेंगलूरु के प्रथम फास्ट ट्रैक कोर्ट (पोक्सो) में येडियूरप्पा के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट की मांग करते हुए आवेदन दायर किया। अदालत ने गुरुवार शाम येडियूरप्पा के खिलाफ गैर-जमानती गिरफ्तारी वारंट जारी किया।

प्रक्रिया का पालन होगा, जरूरी हुआ तो करेंगे गिरफ्तार

तुमकूरु में गृह मंत्री डॉ. जी. परमेश्वर ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री बी.एस. येडियूरप्पा के खिलाफ यौन अपराधों से बच्चों के संरक्षण अधिनियम (पोक्सो) मामले की जांच कर रहे आपराधिक जांच विभाग (सीआइडी) ने उन्हें पूछताछ के लिए पेश होने के लिए नोटिस जारी किया है और अगर जरूरत पड़ी तो उन्हें गिरफ्तार भी किया जा सकता है। उन्होंने कहा, नोटिस प्रक्रियागत रूप से दिया गया है, 15 जून तक आरोप-पत्र दाखिल किया जाना है। उससे पहले वे (सीआइडी) आरोप-पत्र दाखिल करेंगे। उन्हें इसके लिए प्रक्रिया का पालन करना होगा। उन्हें येडियूरप्पा का बयान दर्ज कर उन्हें अदालत में पेश करना होगा। ये सभी प्रक्रियाएं हैं और विभाग यह करेगा। परमेश्वर ने कहा, अगर जरूरत पड़ी तो वे (सीआइडी) गिरफ्तारी करेंगे। मैं यह नहीं कह सकता कि यह जरूरी है।
पुलिस के अनुसार, येडियूरप्पा पर 17 वर्षीय लड़की की मां की शिकायत के आधार पर पोक्सो अधिनियम और भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 354 ए (यौन उत्पीड़न) के तहत मामला दर्ज किया गया है, जिसने आरोप लगाया है कि इस साल दो फरवरी को यहां डॉलर्स कॉलोनी में अपने आवास पर एक बैठक के दौरान उन्होंने उसकी बेटी का यौन उत्पीड़न किया। आरोप लगाने वाली 54 वर्षीय महिला की पिछले महीने यहां एक निजी अस्पताल में फेफड़ों के कैंसर के कारण मौत हो गई थी।

Hindi News/ Bangalore / पूर्व सीएम येडियूरप्पा के खिलाफ गैर-जमानती गिरफ्तारी वारंट जारी

ट्रेंडिंग वीडियो