एनटीपीसी की कुडगी इकाई में 800 मेगावॉट बिजली का उत्पादन शुरू

एनटीपीसी की कुडगी इकाई में 800 मेगावॉट बिजली का उत्पादन शुरू

Ram Naresh Gautam | Publish: Mar, 14 2018 06:09:43 PM (IST) Bengaluru, Karnataka, India

2400 मेगावॉट उत्पादन का आंकड़ा छुआ

बेंगलूरु. राष्ट्रीय ताप ऊर्जा संयंत्र कार्पोरेशन (एनटीसीपी) के विजयपुर जिले के कुडगी इकाई में 800 मेगावाट बिजली उत्पादन शुरू हो गया। कुडगी इकाई में 4 हजार मेगावाट बिजली क्षमता वाला संयंत्र स्थापित किया जा रहा है।
इस इकाई के पहले चरण में अब 2400 मेगावाट बिजली का उत्पादन शुरू हो गया है। दूसरे चरण में इस इकाई में और 1600 मेगावाट बिजली का उत्पादन होगा। इस इकाई में उत्पादित बिजली कर्नाटक, आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु तथा केरल राज्यों को वितरित की जाएगी। एनटीपीसी के प्रशासनिक सूत्रों के मुताबिक इस इकाई के लिए आवश्यक विभिन्न भवनों का निर्माण कार्य वर्ष 2016 में शुरू किया गया था। इस इकाई के लिए 132 बिलियन डॉलर का निवेश किया गया है। इस इकाई के पहले चरण के लिए वर्ष 2014 में जपान बैंक फॉर इंटरनेशनल कोऑपरेशन (जेबीआईसी) से 350 मिलियन अमरीकी डॉलर का ऋण प्राप्त हुआ है। कुडगी की इस इकाई का तीसरा चरण पूरा होने के पश्चात एनटीपीसी तथा एनटीपीसी ग्रुप की कुल ताप ऊर्जा बिजली उत्पादन की क्षमता क्रमश: 45,300 मेगावाट तथा 52,191 मेगावाट तक पहुंचेगी।
एनटीपीसी के पास कोयले पर आधारित 20, गैस पर आधारित 7 सौर ऊर्जा पर आधारित 11 पनबिजली की 2 तथा 1 पवन बिजली उत्पादन इकाईयां है। कंपनी देश की विभिन्न इकाईयों के माध्यम से बिजली उत्पादन की क्षमता 20 हजार मेगावाट तक विस्तारित करने जा रही है।

बादलों ने ढीले किए सूरज के तेवर

बेंगलूरु. हिंद महासागर, श्रीलंका के दक्षिण तटवर्ती क्षेत्र और मालदीव के समुद्र क्षेत्र में बने हवा के कम दबाव वाले क्षेत्र के कारण आसमान में छाए बादलों से सूरज की तपिश में कमी आई है। इसकारण मंगलवार को कई जिलों का मौसम सुहावना हो गया और इसके अभी जारी रहने की संभावना है।
बेंगलूरु मौसम विज्ञान केन्द्र के अनुसार तटीय क्षेत्रों मेंगलूरु, पणम्बूर और कारवार को छोड़ मंगलवार को प्रदेश के सभी जिलों का दिन का तापमान समान्य से 2-3 डिग्री नीचे दर्ज किया गया। दो दिन पहले जहां कई जिलों का अधिकतम तापमान सामान्य से 5-7 डिग्री अधिक 38-39 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया जा रहा था और लोगों को कड़ी धूप झेलनी पड़ रही थी, वहीं मौसम में अचानक बदलाव से बेंगलूरु सहित राज्य के सभी जिलों में राहत की छांव आई है। मौसम विभाग के अनुसार वर्तमान में हिन्द महासागर क्षेत्र से लगते हुए श्रीलंका तट और मालदीव के समुद्रीय क्षेत्र में निम्न वायुदाब का क्षेत्र बना है और अगले 48 घंटों तक ऐसी स्थिति बने रहने की सम्भावना है, जिसके कारण राज्य के कई जिलों में हल्की बारिश हो सकती है।

 

Ad Block is Banned