केवल कांग्रेस ही अल्पसंख्यकों की रक्षा कर सकती है : खरगे

संसद में कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खरगे ने कहा कि केवल कांग्रेस ही अल्पसंख्यकों की रक्षा कर सकती है। अन्य राजनीतिक दलों को केवल सत्ता की चिंता लगी है। राज्य में विपक्षी दल भाजपा के पास आगामी चुनावों को लेकर कोई एजेंडा ही नहीं है।

By: Santosh kumar Pandey

Published: 19 Jan 2019, 08:24 PM IST

बेंगलूरु. संसद में कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खरगे ने कहा कि केवल कांग्रेस ही अल्पसंख्यकों की रक्षा कर सकती है। अन्य राजनीतिक दलों को केवल सत्ता की चिंता लगी है। राज्य में विपक्षी दल भाजपा के पास आगामी चुनावों को लेकर कोई एजेंडा ही नहीं है।

खरगे ने मिलर्स रोड स्थित खुद्दूस साहेब ईदगाह मैदान में पूर्व केंद्रीय मंत्री सी.के. जाफर शरीफ की स्मृति में विभिन्न संगठनों के तत्वावधान में श्रद्धांजलि सभा में शिरकत की। इस दौरान उन्होंने कहा कि गठबंधन सरकार सभी समुदाय को साथ लेकर चल रही है। भाजपा की राजनीतिक चालों को प्रदेश की जनता अच्छी तरह से जानती है।

पूर्व केंद्रीय मंत्री व राज्यसभा सदस्य गुलाम नबी आजाद ने कहा कि कई राजनीतिक दल जाति और धर्म के बीच नफरत का बीज बोने का प्रयास कर रहे हैं। देश के अन्य राज्यों की तरह कर्नाटक में भी अशांति फैलाने के प्रयास किए जा रहे हैं। गठबंधन सरकार इस तरह के सभी प्रयासों को विफल करेगी। कांग्रेस ने सभी धर्म के लोगों को समान अधिकार और न्याय प्रदान किया है। किसी भी समुदाय के साथ अन्याय नहीं किया। राज्यसभा सदस्य डॉ. के. रहमान खान ने कहा कि आज देश में भाजपा सरकार द्वारा दहशत का माहौल पैदा किया जा रहा है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को देश की समस्याओं से ज्यादा विदेश दौरा करने की चिंता लगी रहती है। देश में महंगाई, बेरोजगारी, भ्रटाचार, अशांति फैल रही है। पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धरामय्या, उप मुख्यमंत्री डॉ. जी. परमेश्वर, कांग्रेस महासचिव बी.के. हरिप्रसाद, मंत्री डी.के. शिकुमार, जमीर अहमद खान, रहीम खान, यू.टी. खादर, विधायक एन.ए. हैरिस, तनवीर सेत, रोशन बेग, कनीज फातिमा, रमेश कुमार, नसीर अहमद, विधान परिषद सदस्य रिजवान अरशद सहित जनप्रतिनिधि, धामिर्क नेता उपस्थित थे। सभी ने जाफर शरीफ के प्रति श्रद्धांजलि अर्पित की।

Santosh kumar Pandey Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned