पंचशाली लिंगायत समुदाय की पदयात्रा शुरु

700 किलोमीटर की पदयात्रा

By: Sanjay Kulkarni

Published: 16 Jan 2021, 06:07 AM IST

बेंगलूरु. पंचशाली लिंगायत समुदाय को 2 ए प्रवर्ग में शामिल कर आरक्षण देने की मांग को लेकर गुरुवार को समुदाय के लोगों ने कुडलसंगम से बेंगलूरु तक पदयात्रा शुरू कर दी। पदयात्रा का नेतृत्व इस समुदाय के प्रमुख स्वामी बसव जयमृत्युंजय कर रहे हैं।पदयात्रा शुरू होने से पहले आयोजित सभा में बसवजयमृत्युंजय स्वामी ने कहा कि पंचशाली लिंगायत समुदाय कई वर्षों से सामाजिक न्याय के लिए संघर्ष कर रहा है।

समुदाय को आरक्षण की मांग को किसी भी राजनीतिक दल ने गंभीरता से नहीं लिया है। लिहाजा इस पदयात्रा का आयोजन किया जा रहा है।वर्ष 2012 में इस मांग को लेकर राज्यव्यापी अभियान भी चलाया गया था लेकिन अभी तक यह मांग पूरी नहीं होने के कारण इस समुदाय के लोग पिछड़़ रहे हंै। इस मांग को लेकर अब 700 किलोमीटर लंबी पदयात्रा निकाली जा रही है। प्रति दिन लगभग 20 किलोमीटर का फासला पार करते हुए यह यात्रा विधानमंडल का बजट सत्र शुरु होने से पहले बेंगलूरु पहुंचेगी।

उन्होंने कहा कि हाल में मंत्रिमंडल में शामिल हुए समुदाय के नेता मुरगेश निराणी ने इस पदयात्रा को रोकने की अपील की है लेकिन समुदाय चाहता है कि पूर्व नियोजित कार्यक्रम निरस्त न हो इसलिए पदयात्रा को शुरू किया गया है। समुदाय के नेता मंत्री सीसी पाटिल, सांसद करडी संगण्णा ने पदयात्रा को समर्थन दिया है।

समुदाय के सभी राजनेताओं को इस मांग को लेकर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से बातचीत करने की अपील की गई है। रविवार को जिला मुख्यालय बेलगावी आ रहे अमित शाह को भी इस मांग को लेकर ज्ञापन सौंपा जाएगा।

Sanjay Kulkarni Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned