कागजी शेर हैं भाजपा सांसद: सिद्धरामय्या

कांग्रेस और जनता दल-एस गठबंधन समन्वय समिति के अध्यक्ष सिद्धरामय्या ने कहा है कि हमेशा झूठ बोल कर सफलता प्राप्त नहीं की जा सकती है।

By: शंकर शर्मा

Published: 10 Apr 2019, 12:58 AM IST

बेंगलूरु. कांग्रेस और जनता दल-एस गठबंधन समन्वय समिति के अध्यक्ष सिद्धरामय्या ने कहा है कि हमेशा झूठ बोल कर सफलता प्राप्त नहीं की जा सकती है। सोमवार को बेंगलूरु मध्य से गठबंधन उम्मीदवार रिजवान अरशद के समर्थन में राजाजी नगर विधानसभा क्षेत्र में रोड शो के बाद जनसभा में उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गत लोकसभा चुनाव से पहले लोगों से कई वादे किए थे। इन वादों ने केंद्र में पूर्ण बहुमत की सरकार बनाने में प्रमुख भूमिका निभाई।


उन्हेांने कहा कि पिछले पांच सालों में कम सेकम दस करोड़ रोजगार के अवसर उपलब्ध होने चाहिए थे। रातों रात नोटबंदी की घोषणा कर करोड़ों गरीब और मध्यम वर्ग के लोगों को कतार में खड़ा कर दिया गया, इससे कई लोगों की जान भी चली गई। इसके लिए कौन जिम्मेदार है? इसका जवाब मोदी को देना होगा।


जटिल जीएसटी जारी कर देश की आर्थिक स्थिति खराब कर दी गई। प्रदेश के भाजपा सांसद सभी क्षेत्रों में विफल रहे हैं। उन्हें अपनी उपलब्धियों पर वोट मांगना चाहिए था, मगर वह केवल झूठी मोदी सरकार का सहारा लेने लगे हैं।


सिद्धरामय्या ने कहा कि भाजपा के सभी सासंद कागजी शेर हैं। वे कई बार प्रदेश के सांसदों के प्रतिनिधिमंडल को मोदी के पास ले गए थे। वहां भाजपा के एक सांसद ने भी जुबान खोलने की हिम्मदत नहीं दिखाई। मोदी भ्रष्टाचार खत्म करने की बातें करते हैं लेकिन जेल जाकर लौटे बीएस येड्डियूरप्पा को भाजपा में शामिल कर रखा है। येड्डियूरप्पा ने भाजपा आलाकमान को १८०० करोड़ रुपए भेजे।


उन्होंने आरोप लगाया कि मोदी सरकार रफाल और अन्य कई तरह के भ्रष्टाचार में लिप्त हैं। पूर्व मुख्यमंत्री ने दावा किया कि केंद्र में कांग्रेस के महागठबंधन की सरकार बनेगी। मोदी सरकार की सच्चाई लोगों के सामने आ चुकी है। जनता फिर से भाजपा को वोट देने की बड़ी गलती नहीं करेगी।


इस अवसर पर उम्मीदवार रिजवान अरशद, मंत्री केजे जार्ज, डीकेशिवकुमार, विधायक रामलिंगा रेड्डी, आर रोशन बेग, एनए हैरिस और अन्य नेता उपस्थित थे।

शंकर शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned