अब केपीसीसीआई के अध्यक्ष ने किया दो सीटों पर दावा

अब केपीसीसीआई के अध्यक्ष ने किया दो सीटों पर दावा

Sanjay Kumar Kareer | Publish: Apr, 11 2018 01:24:47 AM (IST) Bangalore, Karnataka, India

वर्ष 2013 के विधानसभा चुनाव में कोरटगेरे विधानसभा क्षेत्र में परमेश्वर की हार के बाद उनकी मुख्यमंत्री पद पर दावेदारी खत्म हो गई थी।

बेंगलूरु. मुख्यमंत्री सिद्धरामय्या को दो विधानसभा क्षेत्रों से चुनाव लडऩे के लिए पार्टी आलाकमान से अनुमति मिलने के संकेत के बाद कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस समिति के अध्यक्ष डॉ. जी. परमेश्वर ने पुलकेशीनगर तथा तुमकूरु जिले की कोरटगेरे से चुनाव लडऩे की अनुमति मांगी है।

उल्लेखनीय है कि वर्ष 2013 के विधानसभा चुनाव में कोरटगेरे विधानसभा क्षेत्र में परमेश्वर की हार के बाद उनकी मुख्यमंत्री पद पर दावेदारी खत्म हो गई थी। लिहाजा परमेश्वर इस बार कोई रिस्क नहीं लेना चाहते है। बताया जाता है कि परमेश्वर की इस मांग का राज्य के वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खरगे ने समर्थन किया है।

बीपी मंजेगौड़ा का त्यागपत्र स्वीकृत

बेंगलूरु. राज्य सरकारी कर्मचारी संघ के अध्यक्ष बी.पी.मंजेगौड़ा का त्यागपत्र स्वीकृत किया गया है। उनका त्यागपत्र पर विधि विभाग की आपत्ति के कारण अवरोध पैदा हुआ था। अब त्यागपत्र मंजूर होने से हासन जिले के होलेनरसीपुर क्षेत्र से कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ऩे का रास्ता साफ हो गया है।

मुख्यमंत्री सिद्धरामय्या ने जनत हासन जिले के कद्दावर नेता एच.डी.रेवण्णा का प्रभाव खत्म करने के लिए मंजेगौड़ा को सरकारी सेवा से त्यागपत्र देकर रेवण्णा के खिलाफ चुनाव लडऩे के लिए सूचित किया था। रेवण्णा ने मंजेगौड़ा पर 700 करोड़ रुपए की अवैध संपत्ति अर्जित करने का आरोप लगाते हुए विधानसभा चुनाव में उनकी चुनौती का सामना करने की बात कही है।

जनता दल (ध) कानून प्रकोष्ठ का सम्मेलन 17 को

बेंगलूरु. पैलेस मैदान में 17 अप्रेल को जनता दल (ध) कानून प्रकोष्ठ का राज्य स्तरीय सम्मेलन आयोजित किया गया है। प्रकोष्ठ के अध्यक्ष अधिवक्ता ए.पी.रंगनाथ के मुताबिक इस सम्मेलन का उद्घाटन पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एच.डी.देवेगौड़ा करेंगे।


सम्मेलन में पार्टी के राज्य इकाई के अध्यक्ष एच.डी.कुमारस्वामी, कार्यकारी अध्यक्ष पीजीआर सिंधिया उपस्थित रहेंगे। सम्मेलन में अधिवक्ताओं की समस्याएं तथा लंबित मांगों को लेकर कुमारस्वामी अधिवक्ताओं के साथ संवाद करेंगे। इस अवसर पर राज्य के सभी 224 विधानसभा क्षेत्रों के कानून प्रकोष्ठ के पदाधिकारी उपस्थित रहेंगे।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned