डर के साए में जी रहे गुन्नगौर गांव के लोग

Yogesh Kumar Sharma

Updated: 17 Nov 2019, 07:13:54 PM (IST)

Bangalore, Bangalore, Karnataka, India

मंड्या. श्रीरंगपट्टण तहसील के गुन्नगौर गांव के आस-पास बीते एक सप्ताह से तेंदुए ने आम लोगों का जीना मुहाल कर रखा है। लोग रात को ही नहीं दिन में भी डर के साए में रहते हैं। हाल ये है कि यहां सडक़ों व कॉलोनियों में कभी भी तेंदुआ नजर आ जाता है।
गुन्नगौर गांव के मोराजी देसाई स्कूल में लगे सीसीटीवी कैमरे में रविवार को तेंदुए का सडक़ों पर टहलना कैद हो गया। इससे पहले भी इस क्षेत्र में करीब आधा दर्जन बार तेंदुआ यहां शिकार की तलाश में आ चुका है। कई बार बकरी व कुत्तों का भी शिकार कर चुका है। रविवार को तेंदुए के रास्ते गुजरने पर स्कूल के बाहर लगे सीसीटीवी कैमरे में उसकी तस्वीर कैद हो गई। स्कूल के स्टाफ को पता चलने पर और भी ज्यादा भय का माहौल हो गया है। तेंदुआ एक सप्ताह से गन्नगौर गांव के आस-पास नजर आने पर वनविभाग को सूचना देने पर वनविभाग की टीम ने तेंदुआ को पकडऩे के लिए अभी तक पिंजरा नहीं लगाया है। गौरतलब है कि 12 नवंबर को दोपहर में गुन्नगौर गांव के एक खेत में बोरेगौड़ा अपनी भेड़ों को चरा रहा था। उसी समय तेंदुए ने एक भेड़ पर हमला कर मार दिया था।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned