धार्मिक मान्यताओं के कारण रक्त नहीं चढ़वाते हैं यहोवा विटनेसेस समुदाय के लोग

ब्लडलेस बोन मैरो ट्रांसप्लांट कर चिकित्सकों ने चार वर्ष के विदेशी बच्चों को दी नई जिंदगी

बेंगलूरु. धार्मिक मान्यताओं के कारण यहोवा विटनेसेस (Jehovah's Witnesses) या यहोवा के साक्षी समुदाय के लोग इलाज के लिए ब्लड ट्रांसफ्यूजन (blood transfusion -खून चढ़वाने) नहीं करवाते हैं। ऐसे में इनका उपचार मुश्किल और जोखिम भरा रहता है। यहोवा के साक्षियों के लिए बिना खून दिए इलाज करने के जो खास तरीके निकाले गए हैं, उससे बाकी मरीजों को भी फायदा होगा।

एक ऐसे ही मामले में शहर के निजी अस्पताल के चिकित्सकों ने कैंसर से जिंदगी और मौत के बीच झूल रहे तंजानिया के चार वर्षीय बच्चे का ब्लडलेस बोन मैरो ट्रांसप्लांट (Bone Marrow Transplant - बीएमटी) कर उसे नहीं जिंदगी दी।

नारायण हेल्थ सिटी के बाल कैंसर रोग विशेषज्ञ डॉ. सुनील भट्ट ने बताया कि जेम्स मोशी (4) को न्यूरोब्लास्टोमा नामक कैंसर था। वह कैंसर के चौथे चरण में था। कैंसरयुक्त ट्यूमर हड्डियों और बोन को अपनी चपेट में ले चुका था। कीमोथैरेपी से उपचार संभव नहीं था। बीएमटी एक मात्र विकल्प था। बीएमटी के दौरान मरीज को पांच से छह बार रक्त और प्लेटलेट्स चढ़ाना पड़ता है। लेकिन यहोवा विटनेसेस समुदाय से होने के कारण परिवार ने खून चढ़वाने से मना कर दिया।

जिसके बाद चिकित्सकों ने रास्ता निकाला। बीएमटी के तीन सप्ताह पहले से जेम्स को रक्त बढ़ाने वाली दवाइयां दी गईं। फिर जाकर चिकित्सकों ने ट्यूमर निकाला और बोन मैरो बदला। ऑपरेशन के छह सप्ताह बाद जेम्स स्वस्थ और चिकित्सकीय निगरानी में है।

डॉ. भट्ट ने बताया कि बीएमटी अपने आप में ही जटिल प्रक्रिया है। जेम्स के उपचार में जोखिम था, क्योंकि चाहकर भी चिकित्सक रक्त नहीं चढ़ा सकते थे। दवाओं की मदद से रक्त बढ़ाने के बावजूद कई बार शरीर में रक्त की कमी हो जाती है। शरीर में प्लेटलेट्स कम बनने से रक्तस्राव होता है। मरीज की जान पर आ बनती है। ब्लडलेस बीएमटी की सफलता दर बेहद कम होती है। आम तौर पर चिकित्सक जोखिम नहीं उठाते हैं, लेकिन इस मामले में चिकित्सक विकल्पहीन थे।

Show More
Nikhil Kumar Reporting
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned