येडियूरप्पा को प्रधानमंत्री मोदी से मिली शाबासी

सूत्रों का कहना है कि तुमकूरु व बेंगलूरु में आयोजित कार्यक्रमों के सफल आयोजन से मोदी प्रभावित हुए हैं। उन्होंने येडियूरप्पा से खुलकर बातचीत की और गर्मजोशी दिखाकर विदा ली। भाजपा के गलियारों में चर्चा है कि येडियूरप्पा व मोदी के बीच संबंध और मजबूत हुए हैं और इससे आने वाले दिनों में मंत्रिमंडल के विस्तार के मसले पर दिल्ली प्रवास के दौरान येडियूरप्पा को अपनी बात जोरदार तरीके से रखने में मदद मिलेगी।

By: Surendra Rajpurohit

Published: 03 Jan 2020, 08:51 PM IST

बेंगलूरु. प्रदेश के दो दिवसीय दौरे पर आए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिल्ली लौटने से पहले शहर के यलहंका हवाई अड्डे पर मुख्यमंत्री बीएस येडियूरप्पा की पीठ थपथपाई और सफल आयोजनों के लिए उनकी तारीफ की।


गांधी कृषि विज्ञान केन्द्र में विज्ञान कांग्रेस सम्मेलन का उद्घाटन करने के बाद प्रधानमंत्री यलहंका हवाई अड्डा पहुंचे तो विदा करने को बीएस येडियूरप्पा, उप मुख्यमंत्री गोविन्द कारजोल और केन्द्रीय मंत्री सदानंद गौड़ा भी वहां पहुंचे। विमान में सवार होने से पहले मोदी ने येडियूरप्पा से गर्मजोशी से हाथ मिलाया और उनकी पीठ थपथपाई और आत्मीयता से मुस्कराकर विमान में सवार हो गए।


सूत्रों का कहना है कि तुमकूरु व बेंगलूरु में आयोजित कार्यक्रमों के सफल आयोजन से मोदी प्रभावित हुए हैं। उन्होंने येडियूरप्पा से खुलकर बातचीत की और गर्मजोशी दिखाकर विदा ली। भाजपा के गलियारों में चर्चा है कि येडियूरप्पा व मोदी के बीच संबंध और मजबूत हुए हैं और इससे आने वाले दिनों में मंत्रिमंडल के विस्तार के मसले पर दिल्ली प्रवास के दौरान येडियूरप्पा को अपनी बात जोरदार तरीके से रखने में मदद मिलेगी।


गौरतलब है कि गुरुवार को तुमकूरु में आयोजित कार्यक्रम में येडियूरप्पा ने राज्य की लंबित सिंचाई परियोजनाओं को पूर्ण करने के लिए सार्वजनिक तौर पर केन्द्र से 50 हजार करोड़ रुपए का विशेष पैकेज देने की मांग करके प्रधानमंत्री को थोड़ा विचलित कर दिया था।
मोदी का सपना साकार करने को प्रतिबद्ध: येडियूरप्पा
बेंगलूरु. मुख्यमंत्री बीएस येडियूरप्पा ने कहा कि 2022 तक किसानों की आय को दोगुना करने व नए भारत के निर्माण के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सपने को साकार करने के लिए राज्य सरकार पूरी प्रतिबद्धता के साथ परिश्रम करेगी।


जीकेवीके में आयोजित 107वीं भारतीय विज्ञान कांग्रेस के उद्घाटन सत्र में मुख्यमंत्री ने कहा कि देश के ग्रामीणों की जरूरतों को पूरा करने को प्रधानमंत्री समर्पित भाव से काम कर रहे हैं और उनकी आशा के अनुरूप राज्य सरकार इसी दिशा में आगे बढ़ेगी। विज्ञान व तकनीक आधारित अनुसंधानों का उपयोग जनहित में हो।


येडियूरप्पा ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य, शिक्षा तथा बुनियादी सुविधाओं के विकास में वैज्ञानिक समुदाय को ज्यादा काम करना होगा। विज्ञान कांग्रेस का बेंगलूरु में आयोजनगर्व की बात है और इस कांग्रेस में पारित किए जाने वाले प्रस्तावों व वैज्ञानिक अनुसंधाानों को कार्यरूप देने का प्रयास किया जाएगा।

pm modi
Surendra Rajpurohit Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned