जनसंख्या के आधार पर पुलिस थाने खोले जाएंगे : परमेश्वर

उन्होंने शपथ ग्रहण समारोह में मुख्य अथिति के रूप में भाग लेते हुए कहा कि वे गृह मंत्री के तौर पर सिद्धरामयया सरकार मेंं काम कर चुके हैं

By: Ram Naresh Gautam

Updated: 08 Jun 2018, 01:01 AM IST

बेंगलूरु. उप मुख्यमंत्री डॉ. जी. परमेश्वर ने कहा है कि प्रदेश में जनसंख्या के आधार पर पुलिस थाने स्थापित किए जाएंगे और हर साल पुलिस कर्मचारियों के पद भी भरे जाएंगे। उन्होंने बुधवार को राजभवन में आयोजित शपथ ग्रहण समारोह में मुख्य अथिति के रूप में भाग लेते हुए कहा कि वे गृह मंत्री के तौर पर सिद्धरामयया सरकार मेंं काम कर चुके हैं। वे पुलिस विभाग और पुलिस कर्मचारियों की समस्याओं को भी करीब से जानते हैं। वे पहले प्रदेश में शांति, कानून एवं व्यवस्था को प्रमुखता देना चाहते हैं।

विशेष रूप से तटीय जिलों में कड़ी निगरनी रखने की जरूरत है। वहां हमेशा साम्प्रदायिक तनाव होता रहता है। वे सिद्धरामय्या से पुलिस विभाग को अधिक अनुदान जारी करने की मांग की थी। सिद्धरामय्या सरकार ने केवल 6,647 करोड़ रुपयों का अनुदान जारी किया था। इस सरकार ने पांच सालों में 25,000 से अधिक पुलिस कर्मचारियों की नियुक्ति करने के अलावा 10 हजार से अधिक पुलिस कर्मचारियों को पदोन्नति दी थी। इस तरह का कार्य किसी भी सरकार में नहीं हुआ था।


उन्होंने कहा कि अगले 15 दिनों में नया बजट पेश होगा। वे फिर मुख्यमंत्री एच.डी. कुमारस्वामी से पुलिस विभाग के लिए अधिकअनुदान जारी करने की मांग करेंगे। पुलिस विभाग में महिला नेतृत्व को अगले पांच साल में 25 फीसदी अधिक की जाएगी। खेल क्षेत्र में राष्ट्र या अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले खिलाडिय़ों को पुलिस विभाग में सीधे नियुक्त करने के सिलसिले में नीति जारी होगी। अगले दो सालों में पुलिस प्रशिक्षण स्कूलों में प्रशिक्षण देने की क्षमता और सुविधाओं को अधिक किया जाएगा।

अगले दो सालों में 50 करोड़ के खर्च में प्रशिक्षण क्षमता को 3200 से 5000 अधिक करने एक कार्ययोजना बनाई गई है। साइबर अपराध की सटीक जांच और नियंत्रण के लिए साइबर पुलिस थानों को पांच करोड़ रुपए की लागत से साइबर फोरेंसिक प्रयोगशाला स्थापित की जाएगी। 50 नई तहसीलों में नए पुलिस थाने स्थापित किए जाएंगे।

Congress
Ram Naresh Gautam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned