तीन वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को विशिष्ट सेवा के लिए राष्ट्रपति पदक

प्रदेश के तीन वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को विशिष्ट सेवाओं के लिए राष्ट्रपति पदक देने की घोषणा की गई है।

By: शंकर शर्मा

Published: 26 Jan 2018, 05:42 PM IST

. प्रदेश के तीन वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को विशिष्ट सेवाओं के लिए राष्ट्रपति पदक देने की घोषणा की गई है। सीआईडी के पुलिस उप महानिरीक्षक (नियुक्ति) डॉ.बीए मेहश, मेंगलूरु के पुलिस आयुक्त टीआर सुरेश और बेंगलूरु उत्तर संभाग के सहायक पुलिस आयुक्त (यातायात) जीए जगदीश को पदक प्राप्त हुआ है।

जबकि सराहनीय सेवा के लिए गुप्तचर विभाग के उप महा निरीक्षक आरएच नायक, गुप्तचर विभाग के पुलिस अधीक्षक हमजा हुसैन, बाणसवाडी उप संभाग के सहायक आयुक्त केपी रवि कुमार, कलबुर्गी जिले के चिंचोली उप संभाग के उपाधीक्षक यू.शरणप्पा, कोडगू जिले सोमवारपेट उप संभाग के उपाधीक्षक संंपत कुमार, हुब्बली नगर दक्षिण उप संभाग के सहायक आयुक्त एन.बी.सकरी, तुमकूरु उप संभाग के उपाधीक्षक के.एस.नागराज, भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो बेंगलूरु के उपाधीक्षक बी.बालराजू, चिकमगलूरु जिले कडूर सर्कल के निरीक्षक के.सत्य नारायण, प्रदेश अपराध रिकार्ड ब्यूरो बेंगलूरु की सहायक उप निरीक्षक वी.एन.गुणवति, प्रदेश अपराधरिकार्ड ब्यूरो की सहायक उप निरीक्षक के.आर.विनुता, उप्पारपेट पुलिस थाने के हेड कांस्टेबल श्रीनिवास शेट्टी, सीआईडी के वन प्रकोष्ट के हेड कांस्टेबल बी.एच.हेम कुमार, कोलार के यातायात सिपाही बी.एम.महबूब, धारवाड़ जिले हुब्बली ग्रामीण थाने के सिपाही एल.ए.पाठक, सीआईडी के हेड कांस्टेबल मल्लिकार्जुन हेगड़े, कर्नाटक राज्य पुलिस आरक्षी बल तीसरी बटालियन के सहायक उप निरीक्षक जगन्नाथ, सातवीं बटालियन के हेड कांस्टेबल कमालाक्षा और जिला शस्त्र आरक्षी बल मैसूरु के हेड कांस्टेबल कृष्णोजी राव को पुलिस पदक उपलब्ध हुआ है।

कड़ी सुरक्षा के बीच आज 69वां गणतंत्र दिवस समारोह
चेन्नई. प्रदेशभर में कड़ी सुरक्षा के बीच शुक्रवार को 69वां गणतंत्र दिवस मनाया जाएगा। महत्वपूर्ण स्थानों पर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था मुहैया कराई गई है। कामराज सालै पर बहुस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था की गई है। यहां राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित गणतंत्र दिवस परेड की समीक्षा कर सलामी लेंगे।

मुख्यमंत्री एडपाडी के. पलनीस्वामी, राज्य सरकार के मंत्री और अन्य गणमान्य व्यक्ति मरीना बीच पर कार्यक्रम में शिरकत करेंगे। सिटी पुलिस आयुक्त एवं जिलों के पुलिस अधीक्षक प्रत्यक्ष रूप से सुरक्षा इंतजाम की निगरानी करेंगे।

इस उद्देश्य से बड़ी संख्या में पुलिस बलों की तैनाती की गई है। जहां भी जरूरत पड़ रही है, लोगों की जांच की जा रही है। वाहनों, होटलों की जांच की जा रही है। कालपाक्कम एवं कुडनकुलम के न्यूक्लीयर पावर स्टेशनों, समुद्री तटों, रेलवे स्टेशनों, बंदरगाह, हवाई अड्डों पर कड़ी सुरक्षा मुहैया कराई गई है।

शंकर शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned